नई दिल्ली(एएनअाई)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमरीका के राष्ट्रपति बराक ओबामा की चीन के पेइचिंग में हाेने वाली जी-20 बैठक में मुलाकात होगी। चार और पांच सितंबर को होने वाली इस मुलाकात में कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर बात हो सकती है। इस दौरान आतंकवाद और परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह (एनएसजी) के मुद्दे पर भी चर्चा की उम्मीद जताई जा रही है।

जी-20 की बैठक में भारत और अमरीका के बीच द्विपक्षीय वार्ता का कार्यक्रम अमरीका के डिप्टी नेशनल सिक्यॉरिटी एडवाइजर के नई दिल्ली दौरे के बाद तय किया गया। इस दौरान उन्होंने पीएमओ के वरिष्ठ अधिकारियों, विदेश मंत्री के साथ वित्त मंत्री अरुण जेटली और बिजली मंत्री पीयूष गोयल के साथ विशेष मुलाकात की थी।

जी -20 शिखर सम्मेलन के मौके पर चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ पीएम मोदी की द्विपक्षीय बैठक होने की संभावना है। हालांकि बैठक का ब्यौरा अभी तय सामने नहीं आया है।

पढ़ेंः अमेरिकी दस्तावेजों से खुली पोल, पठानकोट हमले के लिए पाक था जिम्मेदार

जीतेगा भारत हारेगा कोरोन

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस