भोपाल, एजेंसी। मध्यप्रदेश के बहुचर्चित हनी ट्रैप मामले से पूरे देश में हड़कंप मचा हुआ है। इस केस में नित नई चौंकाने वाली बातें सामने आ रही हैं। अब यह बात सामने आई है कि इस बड़े ब्लैकमेलिंग सिंडिकेट में 40 से अधिक कॉल ग‌र्ल्स और बॉलीवुड की बी-ग्रेड अभिनेत्रियां भी कथित रूप से शामिल रही हैं। इन्होंने राज्य के एक पूर्व मुख्यमंत्री व पूर्व राज्यपाल समेत कई अफसरों व नेताओं को अपने जाल में फंसाया।

अफसरों-नेताओं की आपत्तिजनक अवस्था में 92 वीडियो क्लिप

मामले की जांच के लिए गठित एसआईटी के सूत्रों ने बताया कि अभी तक अफसरों व नेताओं की आपत्तिजनक अवस्थाओं की 92 वीडियो क्लिप मामले में गिरफ्तार पांच महिलाओं के कई मोबाइल फोनों और दो लैपटॉप से बरामद हुई हैं। इस रैकेट की किंगपिन श्वेता स्वप्निल जैन ने राज्य सरकार के महत्वपूर्ण विभागों को संभालने वाले अफसरों व नेताओं के हनीट्रैप के लिए बड़ी कॉल ग‌र्ल्स को अपने साथ जोड़ा था। श्वेता इन कॉल ग‌र्ल्स को सुविधानुसार किसी गेस्ट हाउस या पांच सितारा होटल में किसी अफसर या नेता के पास भेजती थी। वहां किसी गुप्त मोबाइल या कैमरे से उस अफसर या नेता की कॉल गर्ल के साथ आपत्तिजनक अवस्था का वीडियो बना लिया जाता था। जब कोई अफसर या मंत्री किसी सरकारी काम से मुंबई या दिल्ली जाते थे तो वहां उन्हें उनकी मांग के अनुसार मॉडल व बॉलीवुड अभिनेत्रियां भी उपलब्ध कराई जाती थीं।

रैकेट की सरगना को पूर्व CM ने गिफ्ट किया बंगला

हालांकि, सूत्रों ने बताया कि अभी एसआईटी को इस तरह की वीडियो क्लिप नहीं मिली है, जिसमें कोई अभिनेत्री दिखाई दे रही हो। इन वीडियो के आधार पर श्वेता अफसर या मंत्री को ब्लैकमेल करती थी। सूत्रों के मुताबिक, श्वेता ने यह भी स्वीकार किया है कि मध्‍यप्रदेश के एक पूर्व मुख्यमंत्री ने भोपाल के पॉश इलाके में मीनाल रेसिडेंसी में उसे एक बंगला भी गिफ्ट किया था।

बॉलीवुड अभिनेत्रियां भी कराई जाती थीं उपलब्‍ध

मामले में एक आरोपित आरती दयाल ने भी पूछताछ के दौरान स्वीकार किया है कि वह मध्‍यप्रदेश के एक वरिष्ठ आईएएस अफसर के संपर्क में आई और उन्होंने उसे कई मंत्रियों से मिलवाया। उस आईएएस अफसर ने उसे भोपाल में एक फ्लैट भी दिलवाया। बाद में यह फ्लैट उसकी सभी अवैध गतिविधियों का अड्डा बन गया। आरती ने यह भी बताया कि फ्लैट के कुछ कमरों में गुप्त कैमरे लगाए गए थे जहां नेताओं, अफसरों व सरकारी इंजीनियरों की आपत्तिजनक अवस्थाओं के वीडियो बना लिए जाते थे। आरती ने यह भी बताया कि उसने कुछ मामलों में मंत्रियों को बॉलीवुड की बी-ग्रेड की अभिनेत्रियां व मॉडल भी उपलब्ध कराई। श्वेता की तरह आरती का भी एनजीओ है। वह अफसरों व मंत्रियों को कॉल ग‌र्ल्स उपलब्ध कराने के बदले अपने एनजीओ के लिए भारी भरकम सरकारी फंड लेती थी।

कांग्रेस का आरोप, भाजपा के मंच पर नजर आई हनी ट्रैप में आरोपित महिलाएं

हनी ट्रैप मामले की दो प्रमुख आरोपित महिलाओं को भाजपा नेताओं द्वारा सरंक्षण देने का आरोप कांग्रेस ने लगाया है। कांग्रेस नेताओं ने मंगलवार को श्वेता जैन और आरती दयाल की तस्वीरें जारी की। एक तस्वीर और वीडियो में श्वेता जैन भाजपा के प्रदेश के बड़े नेताओं के साथ मंच साझा कर रही है। दूसरी तस्वीर में आरती दयाल भी इसी तरह के एक कार्यक्रम में नजर आ रही है। प्रदेश कांग्रेस सचिव राकेशसिंह यादव ने आरोप लगाया कि तस्वीर में श्वेता जैन खुरई विधानसभा में भाजपा के चुनाव प्रचार के लिए सजे मंच पर बैठी नजर आ रही है। दूसरी तस्वीर में आरती दयाल कुछ अन्य महिलाओं के साथ ली गई सेल्फी में दिख रही है।

व्यापारी से मांगे 20 लाख, दुबई भागने से पहले धरी गई

उधर, भोपाल में एक अन्य मामले में दुष्कर्म का आरोप लगाकर ब्लैकमेल कर 20 लाख पए मांगने के मामले में एक युवती को पकड़ा है। वह दुबई भागने वाली थी, लेकिन इससे पहले ही पकड़ी गई।

यह भी पढ़ें: हाइप्रोफाइल हनी ट्रैप मामले में नया खुलासा, निशाने पर थे 13 IAS अधिकारी पढ़ें-पूरी कहानी

Posted By: Tilak Raj

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप