कोच्चि, एएनआइ। कोरोना वायरस के कारण देश में लॉकडाउन लागू किया गया है। लॉकडाउन फिलहाल, अपने चौथे चरण में हैं। इसके तहत पहले से लागू किए गए प्रतिबंधों में कुछ ढील दी गई है। लेकिन, धार्मिक स्थलों पर लोगों के एकत्रित होने पर भी पाबंदी है। इसी बीच रमजान के पाक महीने का अंत ईद के साथ होना है।  केरल कोच्चि की जुमा मस्जिद पर ईद पर आज से श्रद्धालुओं के लिए बंद कर दी गई है। 

देश में कोरोना वायरस के कारण इस बार लोग एक दूसरे से मिलने से कतरा रहे हैं। जरुरी कामों के लिए भी लोग घर से बाहर निकलने में कतरा रहे हैं। लोग इस कोशिश में लगे हैं कि वह किसी भी हालत में किसी अन्य व्यक्ति के संपर्क में ना आए। ये पहला बार है जब ईद इतने फीके अंदाज में मनेगी। महामारी की वजह से एक तो अधिकांश बाजार बंद हैं। 

जानकारी के लिए बता दें कि देश में लगातार कोरोना वायरस मामलों में बढ़ोतरी हो रही है। इस वक्त देश में कोरोना वायरस के एक लाख से अधिक मरीज हो गए हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, इिस वक्त कोरोना वायरस के 73560 एक्टिव केस हैं। कुल मामलों में से अब तक 54440 लोग ठीक हो चुके हैं या फिर उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। हालांकि, कोराना वायरस के कारण 3867 लोगों की अब तक मौत हो चुकी है। 

ईद यानी ईद उल फित्र दुनियाभर में मनाने जाने वाले सबसे पवित्र मुस्लिम त्योहारों में से एक है। भारत और अरब देशों में लोग बड़ी ही उत्सुकता से ईद के एक दिन पूर्व शाम को चांद का दीदार करते हैं। केरल और जम्मू-कश्मीर में आज ईद मनाई जाएगी।

ये भी पढ़ें: Eid 2020 Moon Sighting Updates: केरल- जम्मू में मनाई जा रही है ईद, देश के बाकी हिस्सों में कल

Posted By: Ayushi Tyagi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस