मुंबई, प्रेट्र। इंद्राणी मुखर्जी के पूर्व ड्राइवर श्यामवर राय ने शीना बोरा की हत्या के लिए उसकी मां इंद्राणी मुखर्जी को जिम्मेदार ठहराया है। सीबीआइ की विशेष अदालत में दिए बयान में उसने कहा कि इंद्राणी ने स्काइप पर उससे कहा था कि वह शीना के साथ बेटे मिखाइल की हत्या करना चाहती है। राय के मुताबिक ये 2012 की घटना है।

गौरतलब है कि श्यामवर राय ने अदालत में कहा था कि माफी मिलने पर वह इस मामले में गवाह बनना चाहता था। अदालत ने 2016 में इस सिलसिले में मंजूरी दी थी। राय ने बताया कि इंद्राणी ने तब कहा था कि दोनों बच्चे उसकी छवि पर बट्टा लगा रहे हैं। संपत्ति विवाद के चलते भी वह गुस्से में थी। इंद्राणी को यह भी अंदेशा था कि शीना सबके सामने यह सच उजागर कर देगी कि वह उसकी बहन नहीं बल्कि बेटी है। वह शीना के उसके सौतेले भाई राहुल मुखर्जी के साथ संबंधों को लेकर भी वह आशंकित थी।

राय ने बताया कि उसकी व पूर्व पति संजीव खन्ना की मदद से इंद्राणी ने शीना की हत्या की। वह चलती कार में शीना के मुंह पर बैठ गई थी। उसके बाद वह उसका गला तब तक दबाती रही जब तक उसकी मौत नहीं हो गई। उस दौरान वह यह भी कह रही थी कि ये तेरा तीन बेडरूम का फ्लैट है।

पुलिस ने राय के साथ इंद्राणी व संजीव खन्ना को अगस्त 2015 में गिरफ्तार कर लिया था जबकि मीडिया मुगल रहे पीटर मुखर्जी को उसी साल नवंबर में पकड़ा जा सका था। शीना की हत्या अप्रैल 2012 में की गई थी, लेकिन इसका पता तब चला जब 2015 में श्यामवर राय को पुलिस ने आ‌र्म्स एक्ट के केस में पकड़ा था। तब उसने बताया कि किस तरह से शीना की हत्या करके उसकी लाश को रायगढ़ जिले के जंगलों में ठिकाने लगा दिया गया।

यह भी पढ़ें: राज्य के बाहर शादी पर कश्मीरी लड़कियों के अधिकार छीनना गैरकानूनी

यह भी पढ़ें: आदिवासियों को 'आधार' की अनिवार्यता से छूट देने की मांग

Posted By: Mohit Tanwar