मुंगेर, जागरण संवाददाता। पतित पावनी गंगा के प्रति लोगों की आस्था का नजारा मंगलवार सुबह एनएच 80 पर देखते बना। रुद्र प्रयाग से गंगा सागर के लिए चले गंगा जागरण रथ के स्वागत में लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। लोग हाथ में पुष्प लिए रथ की ओर दौड़ पड़े। महिला, बच्चे, युवा व बुजुर्ग हर कोई रथ पर रखे पतित पावनी गंगा के जल से भरे कलश पर पुष्प अर्पित करने को आतुर दिखा।

उमंग देखकर लग रहा था कि गंगा जागरण यात्रा ने यह विश्वास पैदा कर दिया है कि अब गंगा फिर से निर्मल व अविरल होगी। रथ कला की धरती खड़गपुर पहुंचा, जहां सैकड़ों की संख्या में शहर के बुद्धिजीवियों, राजनीतिक कार्यकर्ताओं, गायत्री शक्ति पीठ के सदस्यों ने रथ का भव्य स्वागत किया। महिलाओं ने आरती उतारी, मंगल गायन किया और गंगा को प्रदूषण मुक्त बनाने का संकल्प लिया। रथ देखते ही लोग हर-हर गंगे, जय-जय गंगे का जयघोष करने लगे। भाजपा जिलाध्यक्ष कुमार प्रणय के नेतृत्व में सैकड़ों लोगों ने रथ की अगुवानी की। इसके बाद गंगा जागरण यात्रा रथ को उल्टानाथ महादेव मंदिर लाया गया, जहां महिलाओं ने रथ की आरती उतारी। फिर सभी ने एक साथ गंगा को प्रदूषित नहीं होने देने का संकल्प लिया। रथ धीरे-धीरे भागलपुर की ओर प्रस्थान कर गया।

पढ़े: गंगा समेत सभी नदियों को स्वच्छ करने का करूंगा प्रयास: गंगवार

अविरल गंगा के लिए उठीं आस्था की हिलोरें

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप