राज्य ब्यूरो, श्रीनगर। केंद्र सरकार द्वारा पांच अगस्त को जम्मू-कश्मीर के दो केंद्र शासित राज्यों में पुनर्गठन के बाद हालात तेजी से सामान्य हो रहे हैं। इसकी बानगी शनिवार को श्रीनगर के ऐतिहासिक लाल चौक पर देखने को मिली। यहां दोपहर को भी दुकानें खुलीं, जहां खरीदारों की भीड़ उमड़ी। बाजारों में नजर आई यह रौनक आतंकियों को जवाब मानी जा रही है जो जबरन बंद लागू कराने की कोशिश कर रहे हैं।

कश्मीर का नजारा तेजी से बदल रहा है। यहां अब न कोई पाबंदी है और न ही कहीं कंटीले तार नजर आ रहे हैं। वहीं, चौक को जोड़ने वाली सभी सड़कों पर पूरे दिन जाम लगा रहा।

पिछले कई दिनों से आतंकी संगठन तरह-तरह से लोगों को धमकाने में लगे हैं। वे न केवल सेब व्यापारियों को निशाना बना रहे हैं, बल्कि स्कूल तक जलाने की कोशिश कर रहे हैं। लेकिन शनिवार को जिस तरह लाल चौक समेत वादी के विभिन्न इलाकों में दुकानें खुलीं और लोगों ने जमकर खरीददारी की उससे उनके मंसूबे नाकाम होते नजर आ रहे हैं। खास बात यह है कि सड़कों पर निजी वाहन ज्यादा दिखाई दे रहे हैं। सार्वजनिक वाहन काफी कम दिख रहे हैं।

निजी वाहनों की आवाजाही शुरू हुई

अब तक सिर्फ सुबह और शाम को खुलने वाले कई प्रमुख बाजार शनिवार को दोपहर को भी खुले रहे। रेहड़ी वालों की संख्या भी बीते दिनों की तुलना में अधिक रही। बड़ी बात यह कि सुबह से ही आम लोगों और निजी वाहनों की सड़कों पर आवाजाही शुरू हो गई। इतना ही नहीं, हाईवे और श्रीनगर को वादी के विभिन्न शहरों से जोड़ने वाली सड़कों पर टैक्सियां भी चलीं। सभी सरकारी कार्यालय और बैंक खुले रहे। हालांकि नागरिक सचिवालय बंद रहा। वहां सिर्फ जम्मू के लिए रिकार्ड लेकर जाने वाले ट्रक और संबंधित कर्मी ही नजर आए। बनिहाल-बारामुला रेल सेवा लगातार 81वें दिन भी ठप रही।

पूरे कश्मीर सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त रहे

प्रशासन ने किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए सभी संवेदनशील इलाकों में सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए हैं। सभी प्रमुख सड़कों और चौराहों पर पुलिस व अर्ध सैनिक बलों को तैनात किया है। पुलिस अधिकारी ने बताया कि वादी में शनिवार को स्थिति पूरी तरह शांत और नियंत्रित रही।

यह भी पढ़ें: शाह ने साधा कांग्रेस पर निशाना, कहा- अपने शासनकाल में नहीं की आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई

यह भी पढ़ें: श्रीनगर में CRPF - पुलिस के दल पर आतंकियों ने किया ग्रेनेड से हमला, 6 घायल

Posted By: Dhyanendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप