नई दिल्ली (एजेंसी)। वरिष्ठ कांग्रेसी नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री मनीष तिवारी द्वारा पीएम मोदी को लेकर किए गए एक अभद्र ट्वीट पर अब कांग्रेस ने सफाई दी है। कांग्रेस ने सोमवार को सफाई देते हुए कहा कि एक देश हर कोई व्यक्ति अपनी बात रखने के लिए स्वतंत्र है। वहीं भाजपा ने कहा है कि तिवारी के इस ट्वीट के लिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी को माफी मांगनी चाहिए।

 

मीडिया से बात करते हुए कांग्रेस प्रवक्ता पीसी चाको ने कहा, 'हर कोई अपनी बात रखने के लिए स्वतंत्र है इसका अर्थ यह नहीं है कि किसी को कोई भी आपत्तिजनक भाषा का प्रयोग करके चुप करा सकता है। संघ परिवार का व्यवहार सबके सामने है और जिस तरह से वे इस देश में सांप्रदायिकता फैला रहे हैं, इससे देश के सांप्रदायिक सौहार्द और शांति पर स्पष्ट रूप से खतरा दिखाई दे रहा है।  मैंने अभी तक देखा नहीं है (मनीष तिवारी का ट्वीट), लेकिन मुझे लगता कि वह वह ऐसे व्यक्ति नहीं हैं जो कभी आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल करेंगे।'

 

मनीष तिवारी ने सोनिया और राहुल की सहमति से किया पोस्ट- भाजपा

 

वहीं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा कि मनीष तिवारी ने प्रधानमंत्री के लिए जानबूझकर अभद्र भाषा का प्रयोग किया क्योंकि इसके लिए उन्हें कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व से निर्देश मिला था। भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा, 'वह एक अच्छे आदमी हैं, लेकिन मुझे लगता है कि उन्हें राहुल गांधी द्वारा ऐसा कहने के लिए निर्देश मिला था। ऐसा करके उन्होंने अपनी छवि धूमिल की है।' 

 

वहीं एक अन्य पार्टी नेता नलिन कोहली ने कहा, 'यह स्पष्ट रुप से अमर्यादित भाषा है। कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ लोग ही प्रधान मंत्री के लिए अश्लील भाषा का प्रयोग कर रहे हैं। इससे पता चलता है कि उनके पास ऐसा कहने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी या राहुल गांधी या दोनों की मौखिक सहमति है। यदि वे राजनीतिक रूप से उनका (प्रधानमंत्री मोदी) मुकाबला कर पा रहे हैं तो इसका मतलब यह नहीं है कि उनके नेता अश्लीलता का सहारा लें।' कोहली ने कहा कि या तो सोनिया गांधी को माफी मांगनी चाहिए या ऐसे नेताओं के खिलाफ कार्यवाही करनी चाहिए।

 

आपको बता दें कि रविवार को मनीष तिवारी ने अपने ट्विटर अकाउंट से किए गए ट्वीट में प्रधानमंत्री का नाम लेते हुए बेहद गंदे शब्दों का इस्तेमाल किया था। इस ट्वीट की गाली-गलौज वाली भाषा लगभग वैसी ही है जो दिग्विजय सिंह ने अपने ट्वीट में लिखा था।

  

ट्वीट का सिलसिला तब शुरू जब मनीष तिवारी ने नरेंद्र मोदी से संबंधित एक वीडियो शेयर किया। इसमें प्रधानमंत्री राष्ट्रगान के दौरान चलते हुए दिखाई दिए। इस पर दीपक कुमार सिंह नामक एक व्यक्ति ने मनीष तिवारी को भड़काऊ भाषा में जवाब दिया। उन्होंने ट्वीट किया, 'आप मोदी को देशभक्ति न सिखाइए चाचा..बस आप कितने नीचे गिर सकते हो, देख लिया।' इसी ट्वीट पर कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने अश्लील भाषा में जवाब दिया।

 

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी के खिलाफ कांग्रेस नेता मनीष तिवारी का आपत्तिजनक ट्वीट

यह भी पढ़ें: पश्चिम की तरह विकसित होगा पूर्वी भारत : अमित शाह

Posted By: Kishor Joshi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस