तिरुअनंतपुरम, आइएएनएस : स्वाधीनता दिवस समारोह में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत को राष्ट्रीय ध्वज फहराने की अनुमति देने के लिए केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने पलक्कड़ के एक स्कूल के खिलाफ कार्रवाई के आदेश दिए हैं। वहीं, केरल भाजपा अध्यक्ष के. राजशेखरन का कहना है कि इस मामले में किसी नियम का उल्लंघन नहीं हुआ है, लिहाजा इस मसले से कानूनी तरीके से निपटा जाएगा।

मुख्यमंत्री विजयन ने डायरेक्टर ऑफ पब्लिक इंस्ट्रक्शन (डीपीआइ) को निर्देश दिया कि वह राज्य सरकार द्वारा संचालित कर्नाकेयामेन स्कूल के प्रधानाचार्य और प्रबंधक के खिलाफ समुचित कार्रवाई सुनिश्चित करें। मुख्यमंत्री ने पुलिस को भी इस बात की पड़ताल करने के लिए कहा है कि क्या उनके खिलाफ आपराधिक कार्यवाही भी शुरू की जा सकती है।

स्कूल के राज्य सरकार द्वारा वित्तपोषित होने के कारण समारोह का आयोजन सरकारी दिशा-निर्देशों के मुताबिक किए जाने की अपेक्षा थी। स्कूल को यह भी बताया गया था कि 15 अगस्त के कार्यक्रम में कोई राजनीतिक शख्सियत हिस्सा नहीं ले सकती। जिलाधिकारी और पुलिस ने कर्नाकेयामेन स्कूल प्रबंधन को सूचित किया था कि इस मौके पर सिर्फ जनप्रतिनिधि या संस्थान का प्रमुख ही राष्ट्र ध्वज फहरा सकता है। लेकिन, स्कूल प्रबंधन आरएसएस समर्थक है, इसलिए उसने आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत को मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया था।

यह भी पढ़ेंः बिटिया की पढ़ाई के लिए नहीं लेनी होगी टेंशन, नए साल में मिलेगी ये खुशखबरी

Posted By: Gunateet Ojha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस