हरिद्वार, जासं। योगगुरु बाबा रामदेव ने गुरुवार सुबह कनखल से स्वच्छ भारत अभियान की शुरुआत की। इस दौरान उनके साथ आचार्य बालकृष्ण भी थे। बाबा रामदेव ने कहा कि स्वच्छ भारत, स्वस्थ भारत की अवधारणा को साकार करने के लिए 'कानून और कर्तव्य' दोनों की जरूरत है। सृष्टि मंदिर की तरह है, और हमारा कर्तव्य बनता है कि हम ईश्वर निर्मित इस सृष्टि को मंदिर की तरह स्वच्छ व सुंदर रखें, यह किसी ब्रह्म आराधना से कम नहीं।

योगगुरु ने बताया कि उनके साथ गुरुवार को देश भर में 680 से अधिक स्थानों पर भारत स्वाभिमान व पतंजलि योगपीठ के लाखों कार्यकर्ताओं ने भी इस अभियान को शुरू किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत अभियान को जन-जन तक पहुंचाने के लिए बाबा रामदेव ने कनखल के दिव्य योग मंदिर से सफाई की शुरुआत की। इसके तहत हरकी पैड़ी के गऊघाट सहित अन्य घाटों पर भी सफाई अभियान चलाया गया। साथ ही घोषणा की कि भारत स्वाभिमान के कार्यकर्ता रोजाना दो घंटे देश को स्वच्छ व स्वस्थ बनाने के लिए देंगे।

हरिद्वार-ऋषिकेश को लिया गोद

योगगुरु बाबा रामदेव ने स्वच्छ भारत, स्वस्थ भारत अभियान के तहत धर्मनगरी हरिद्वार और तीर्थ नगरी ऋषिकेश को गोद लेने की घोषणा की।

पढ़ें: मोदी से मिलकर तेंदुलकर ने की गांव गोद लेने की पहल

पढ़ें: स्वच्छता अभियान: तीर्थ से पहले कूड़े के दर्शन

Posted By: Anjani Choudhary