जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। देश में बढ़ती असहिष्णुता के विरोध में कलाकारों के सम्मान वापसी अभियान के खिलाफ मशहूर कलाकारों का स्वर मुखर होने लगा है। इस सिलसिले में देश के जाने माने कलाकार, साहित्यकार, गायक, अभिनेता और फिल्म निर्देशक सम्मान वापसी के विरोध में राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को ज्ञापन सौंपेंगे। इसके लिए अभिनेता अनुपम खेर के नेतृत्व में सात नवंबर को सैंकड़ों साहित्यकार और कलाकार जनपथ से राष्ट्रपति भवन तक मार्च करेंगे।

पढ़ेंःअसहिष्णुता पर बयानबाजी महज पब्लिसिटी स्टंट : रजा मुराद

इस मुहिम में पद्म पुरस्कार पाने वाले दर्जनों कलाकार भी शामिल हैं। लोक गायिका मालिनी अवस्थी के अनुसार देश के प्रसिद्ध कलाकार, साहित्यकार, फिल्मकार और गायक राष्ट्रपति को बताएंगे कि किस तरह देश में जानबूझकर भय और असहिष्णुता का माहौल पैदा किया जा रहा है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देश की छवि को खराब करने की साजिश को बेनकाब करना जरूरी है। मालिनी अवस्थी के अनुसार कलाकार का काम अपनी कला के माध्यम से समाज को जोड़ना है, उसे तोड़ना नहीं है और समाज की ओर से इसके लिए उन्हें सम्मानित किया जाता है। राष्ट्रवादी कवि मनवीर मधुर ने भी सम्मान वापसी को देश का अपमान बताया है। उन्होंने कहा कि यह चंद लेखकों की सुनियोजित साजिश है।

पढ़ेंःमैं पद्मश्री नहीं लौटाऊंगा : पुरातत्वविद् डॉ. यशोधर मठपाल

सात नवंबर को जनपथ पर सैंकड़ों कलाकार इकट्ठा होंगे और अभिनेता अनुपम खेर के नेतृत्व में राष्ट्रपति भवन तक मार्च करेंगे। मार्च में शामिल होने वाले कलाकारों में भजन गायक अनुप जलोटा, उस्ताद वसीफुद्दीन डागर, फिल्म निर्देशक प्रियदर्शन, नीतिन देसाई, नीरज वोहरा, अभिनेता विवेक ओबेराय, कलाकार मनोज जोशी, साहित्यकार नरेंद्र कोहली, अच्युतानंद मिश्र और कवि गजेंद्र सोलंकी शामिल हैं।सम्मान वापसी के खिलाफ इस अभियान को कई पद्म पुरस्कार पाने वाले कलाकारों का समर्थन भी हासिल है, जो इस मार्च में शामिल नहीं हैं। लेकिन राष्ट्रपति को सौंपे जाने वाले ज्ञापन पर उनका भी हस्ताक्षर होगा। इनमें बिरजू महाराज, पंडित हरिप्रसाद चौरसिया, पंडित राजन-साजन मिश्र, सोनल मानसिंह, सरोज वैद्यनाथन, गीतकार प्रसून जोशी, फिल्म निर्देशक शेखर कपूर, फिल्म अभिनेता कलम हासन शामिल है।

पढ़ेंः अपने नेताओं के बयानों से किनारा कर भाजपा ने कहा, 'शाहरुख शानदार अभिनेता'

Posted By: Sanjeev Tiwari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप