नई दिल्ली (जेएनएन)। हिंसा के बीच कश्मीर घाटी से एक अच्छी खबर आई है। सेना द्वारा संचालित कोचिंग सेंटर से ज्वाइंट इंट्रेस एग्जाम (जेईई) के लिए 28 छात्रों ने क्वालीफाई किया है। सेना का सुपर-40 नाम का ये कोचिंग सेंटर श्रीनगर में सैन्य परिसर में चलाया जाता है। यहां 40 छात्रों को जेईई की पढ़ाई कराई जाती है। इस कोचिंग सेंटर की शुरुआत श्रीनगर में सैन्य परिसर में सेना ने 2013 में की थी। सेना द्वारा यह कोचिंग सेंटर सेंटर फॉर सोशल रिस्पांसिबिलिटी एंड लर्निग (सीएसआरएल) और पेट्रोनेट एलएनजी की मदद से संचालित किया जाता है।

बेहतरीन प्रदर्शन : खास बात यह है कि इस साल ¨हसा और तनाव के बीच सेना के कोचिंग सेंटर का यह सबसे बेहतरीन प्रदर्शन है। सेना के प्रवक्ता ने बताया कि दक्षिणी कश्मीर से नौ, उत्तरी कश्मीर से 10, करगिल व लद्दाख क्षेत्र से सात और जम्मू क्षेत्र से दो छात्रों ने बाजी मारी है। प्रतिभाशाली होने के बावजूद मौकों से वंचित रह जाने वाले छात्रों के लिए करियर में सफलता हासिल करने के लिए यह कोचिंग उचित मंच उपलब्ध कराती है।

सेना मुफ्त में देती है कोचिंग : श्रीनगर से बाहर रहने वाले छात्रों को रहना और खाना-पीना सेना द्वारा मुफ्त मुहैया कराया जाता है। पांच छात्राओं को सेना ने दिल्ली में कोचिंग कराई थी। इनमें से दो ने परीक्षा पास कर ली है। परीक्षा में पास होने वाले छात्र-छात्राओं को ही इसमें आइआइटी-जेईई और दूसरी इंजीनियरिंग परीक्षाओं की तैयारी कराई जाती है। बता दें कि पिछले साल जुलाई में आतंकी बुरहान वानी की मौत के बाद से ही घाटी में हिंसा और तनाव का माहौल है। यहां तक कि कई महीनों तक स्कूल-कॉलेज भी बंद रहे।

अब सुपर-50 बनेगा : श्रीनगर में रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता के अनुसार पिछले कई महीनों से जारी अशांति के बीच भी कोचिंग सेंटर में पढ़ाई जारी थी। इसी का परिणाम है कि कोचिंग सेंटर के 40 में से 28 छात्रों ने क्वालीफाई किया है। बता दें कि यह पहला बैच था, जिसमें कश्मीर घाटी की 5 लड़कियों को दिल्ली में कोचिंग दी गई थी। सेना का कहना है कि सुपर 40 की सफलता को देखते हुए अगले सत्र से कोचिंग में 50 छात्रों को कोचिंग दी जाएगी।

Posted By: Kamal Verma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप