नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। हमारे जीवन में हमने अक्सर दो शब्द अधिकतर सुने हैं। यह दोनों ही शब्द नौकरी पेशा वाले इंसान के लिए बेहद ही अहम हो जाते हैं। पहला शब्द रिज्यूमे और दूसरा शब्द सीवी। हालांकि लोगों को यह गलतफहमी होती है कि दोनों ही शब्द एक है लेकिन वास्तव में दोनों ही शब्द के अर्थ बेहद ही भिन्न है। दोनों ही शब्दों में एक बड़ा अंतर है। क्या आप जानते हैं सिवी को रिज्यूमे से वास्तव में क्या अलग करता है? या फिर सीवी और रिज्यूमे में बुनियादी अंतर क्या है ? आज आप हमारे इस लेख से जानिए किसी भी सीवी और रिज्यूमे के बीच क्या अंतर है?

क्या होता है रिज्यूमे?

रिज्यूमे एक फ्रेंच शब्द है यह एक दो पेज का छोटा डॉक्यूमेंट होता है। इसमें किसी भी व्यक्ति के बारे में उसके कार्य की संपूर्ण एवं स्पष्ट जानकारी शामिल होती है। रिज्यूमे में उम्मीदवार के बारे में संक्षिप्त और टू द प्वाइंट सारांश लिखा होता है। रिज्यूमे का एकमात्र उद्देश्य होता है किसी नौकरी के लिए दावेदार को पेश करना जिसमें उस पोस्ट के लिए सभी जरूरी जानकारियां लिखी होती है। जिसके लिए व्यक्ति आवेदन करता है। यदि सरल शब्दों में समझें तो रिज्यूमे किसी विशिष्ट पद की जरूरतों और मांगों को ध्यान में रखते हुए तैयार किया जा सकता है।

रिज्यूमे में शामिल होने वाले प्रमुख बिंदु

1.शिक्षा और प्रशिक्षण कौशल

2.सार

3.किसी भी शुरू की गई परियोजना पर काम

4.संपर्क विवरण

5.प्रमाण पत्र और पुरस्कार

6. वॉलंटरी वर्क

7.बोली जाने वाली भाषाएं

यह भी पढ़े- द्रौपदी मुर्मू ने दी जीवन रक्षा पदक श्रृंखला पुरस्कार-2022 प्रदान करने की मंजूरी, 43 व्यक्ति हैं शामिल

क्या होता है सीवी

सीवी एक प्रकार का लैटिन शब्द है जिसका अर्थ होता है करिकुलम विटेज। सीवी रिज्यूमे से बेहद ही अलग होता है। सीवी में शिक्षा और उपलब्धियों को विस्तार से बताया जाता है। यह कई पन्नों का भी हो सकता है। सीवी क्रोनोलॉजिकल होता है अर्थात सीवी में आप सभी जानकारी सिलसिलेवार तरीके से लिखते हैं। सीवी में कोई भी व्यक्ति अपनी एजुकेशन और अचीवमेंट्स की कंपलीट स्टोरी लिख सकते हैं। सीवी में विस्तार पूर्वक किसी व्यक्ति के नौकरी का इतिहास, शिक्षा, उपलब्धि, प्रस्तुतियां, सम्मान व पुरस्कार, अनुसंधान और अन्य उपलब्धियों का विवरण शामिल होता है।

सीवी में शामिल होने वाले प्रमुख बिंदु

1. शिक्षा

2. कार्य अनुभव

3. प्रकाशन

4. कौशल

5. प्रशंसा और पुरस्कार

6. प्रमाण पत्र

7. संपर्क विवरण

8. फेलोशिप और अनुदान

9. अनुसंधान

10. सदस्यता

11. सम्मेलन

12. शोध

सीवी और रिज्यूमे में अंतर?

सीवी एक विस्तृत दस्तावेज होता है जिसने किसी भी व्यक्ति के सभी व्यावसायिक उपलब्धियों की जानकारी शामिल होती हैं तो वही रिज्यूमे में एक व्यक्ति के पेशेवर जीवन की जानकारी शामिल होती है। उसमें व्यक्ति के नौकरी के लिए सभी जरूरी बातें लिखी होती है। सीवी डिटेल होता है जबकि रिज्यूमे कम शब्दों में या जरूरत के हिसाब से तैयार किया जाता है।

करिकुलम विटेज एक लैटिन शब्द है जिसे शार्ट फॉर्म में सीवी कहा जाता है। वही रिज्यूमे फ्रांसीसी शब्द है जो कि रिज्यूमे से आया है। सीवी की तुलना में रिज्यूमे काफी ही ज्यादा छोटा होता है इसमें बहुत पॉइंट टू पॉइंट बात लिखी होती है।

सीवी में एकेडमिक पॉइंट्स पर ज्यादा ध्यान दिया जाता है तो वहीं रिज्यूमे में करिकुलम स्किल्स और नौकरी के लिए जरूरी नॉन एकेडमिक डिटेल्स शामिल होती है।

यह भी पढ़े- जल जीवन मिशन के तहत 11 करोड़ घरों को मिला नल कनेक्शन, PM मोदी ने की सराहना

Edited By: Preeti Gupta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट