मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। वेंटीलेटर एंबुलेंस के साथ एसएसपी आवास में पहुंचकर महिला शिक्षक जयश्री के स्वजन ने प्रदर्शन किया था। जबकि अस्पताल से मरीज को दिल्ली के लिए रेफर किया गया था। स्वजन बीच रास्ते में चालक पर दबाव बनाकर एंबुलेंस को एसएसपी आवास पहुंच गए। प्रदर्शन के समय एसएसपी हेमंत कुटियाल पुलिस लाइन में चल रहे अमृत महोत्सव समापन समारोह में थे।

यह भी पढ़ें:- घायल महिला को लेकर वेंटीलेटर समेत Moradabad SSP आवास पर किया हंगामा, दिल्ली जाते समय रास्ते में मौत

सूचना मिलने के बाद पहुंचे सीओ सिविल लाइंस आशुतोष तिवारी एंबुलेंस चालक को फटकार लगाई। हालांकि, एंबुलेंस प्रोटोकाल में मरीज को अस्पताल की जगह किसी प्रदर्शन में शामिल करना नियमों का उल्लंघन है। जनपद में पिछले कुछ समय में एंबुलेंस चालक पीड़तों के साथ प्रदर्शन में शामिल हुए हैं। आल यूपी एंबुलेंस आपरेटर्स वेलफेयर एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष हैदर नकवी ने बताया कि एंबुलेंस में मरीज के साथ केवल रेफर सेंटर अस्पताल तक पहुंचना हमारी जिम्मेदारी है।

यह भी पढ़ें:- महिला को वेंटीलेटर पर लेकर Moradabad SSP आवास पर हंगामा करने वालों ने पुलिस पर लगाया कार्रवाई न करने का आरोप

इस दौरान एंबुलेंस चालक को किसी दबाव को नहीं मानना चाहिए। बुधवार शाम को जो घटना हुई है,वह गलत है। वेंटीलेटर एंबुलेंस का एक-एक मिनट मरीज के लिए अहम होता है। एसोसिएशन के माध्यम से भविष्य में कोई चालक ऐसी गलती न करे, इसके लिए जागरूक किया जाएगा।

बोले एंबुलेंस चालक

मरीज को अस्पताल तक पहुंचाना एंबुलेंस चालक की बड़ी जिम्मेदारी है। ऐसे में कभी-कभी मरीज के स्वजन पैसा नहीं देने का डर दिखाकर जबरन एंबुलेंस चालक पर दबाव बनाते हैं। मजबूरी के चलते कुछ लोग स्वजन के बहकावे में आ जाते हैं। लेकिन हम ऐसी घटनाओं का विरोध करते हैं। - अमित राणा, प्रदेश प्रचार मंत्री, यूपी एंबुलेंस एसोसिएशन

एंबुलेंस चालकों को पूरी सावधानी से कार्य करना चाहिए। ऐसे प्रदर्शन में शामिल होने से छवि खराब होती है। हमारा काम मरीज को पहुंचाने का है। जिसे हम पूरी जिम्मेदारी से निभाते हैं। वेंटीलेटर एंबुलेंस के साथ प्रदर्शन करना गलत है। - विनीत कुमार

मरीज के स्वजन के दबाव में आकर एंबुलेंस चालक मजबूरी में चले जाते हैं। कभी-कभी लोग रास्ते में ही ट्रैक्टर लगाकर प्रदर्शन करने लगते हैं। ऐसे बीच में रुकना हमारी मजबूरी होती है। हम कभी ऐसे प्रदर्शन में शामिल होने के लिए तैयार नहीं होते हैं। जो किया गया वह सही नहीं है। - देवेंद्र कुमार

एंबुलेंस का काम मरीजों को अस्पताल पहुंचाने का है। इसका इस्तेमाल अपने हितों के लिए नहीं होना चाहिए। ऐसे चालकों का हम विरोध करते हैं, जो प्रदर्शन में शामिल होते हैं। - नवीन कुमार

Edited By: Vivek Bajpai