भोपाल, जेएनएन। मिशन 2023 की तैयारियों में जुटी मध्य प्रदेश कांग्रेस शिवराज सरकार को घेरने में कोई कसर नहीं छोड़ेगी। इसके लिए जल्द ही जन आंदोलन शुरू किए जाएंगे। साथ ही, भाजपा सरकार के विरुद्ध आरोप पत्र भी जारी किया जाएगा। आरोप पत्र तैयार करने का जिम्मा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ ने पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह को सौंपा है। वे विधायकों से चर्चा करने के साथ अन्य माध्यमों से तथ्य जुटाएंगे और फिर इसे अंतिम रूप दिया जाएगा। प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष संगठन प्रभारी चंद्रप्रभाषष शेखर ने बताया कि आरोप पत्र सहित अन्य कमेटियों का प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने गठन कर दिया है। ये समितियां अपने स्तर पर तथ्य जुटाकर प्रतिवेदन तैयार करेंगी। आरोप पत्र समिति का अध्यक्ष अजय सिंह को बनाया गया है। वे विधायकों से चर्चा करने के अलावा अन्य माध्यमों से भाजपा सरकार में हुए भ्रष्टाचार, अनुसूचित जाति-जनजाति वर्ग पर हो रहे अत्याचार सहित अन्य मुद्दों पर आरोप पत्र तैयार करेंगे।

चिंतन शिविर के बाद मप्र कांग्रेस में बदलाव तेज, चार अध्यक्ष नियुक्त

उदयपुर चिंतन बैठक के बाद मध्य प्रदेश कांग्रेस में तेजी से बदलाव शुरू हो गया है। बुरहानुपर और खंडवा जिला इकाई के अध्यक्ष नियुक्त करने के बाद अब चार जिलों में अध्यक्षों की नियुक्ति के आदेश जारी किए गए हैं। इसके पहले पार्टी के अनुसूचित जाति विभाग के अध्यक्ष सहित चार कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त किए गए थे। पार्टी में जल्द ही एक व्यक्ति-एक पद के सिद्धांत पर और परिवर्तन होंगे। प्रदेश कांग्रेस के प्रस्ताव पर रविवार को अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव केसी वेणुगोपाल ने नियुक्ति आदेश जारी किए। इसमें उज्जैन शहर इकाई का अध्यक्ष रवि भदौरिया को बनाया गया है। वहीं, टीकमग़़ढ जिला कमेटी का अध्यक्ष नवीन साहू, सिंगरौली ग्रामीण का ज्ञानेंद्र द्विवेदी और सीधी जिला इकाई का अध्यक्ष ज्ञानप्रताप सिंह को बनाया गया है। पार्टी सूत्रों का कहना है कि जल्द ही एक व्यक्ति पद के सिद्घांत पर संगठन के विभिन्न पदों पर नियुक्तियां होंगी। इसके लिए पदाधिकारियों को तैयार रहने के निर्देश भी दिए जा चुके हैं।

कमल नाथ बोले, मप्र सरकार विभाजन की राजनीति कर रही 

नीमच में एक बुजुर्ग की हत्या को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा कि भाजपा विभाजन की राजनीति कर रही है। पहले धर्म के आधार पर बांटेगे फिर जाति के आधार पर बांटेंगे। पूर्व मुख्यमंत्री नाथ तीन दिवसीय दौरे पर रविवार को छिंदवाड़ा पहुंचे। उन्होंने इमलीखेड़ा हवाई पट्टी पर पत्रकारों से चर्चा करते हुए यह बात कही। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दो दिन पहले घोषणा की है कि वे आंगनबाड़ी केंद्र के बच्चों के लिए खिलौने एकत्रित करने के लिए हाथठेला लेकर निकलेंगे। मुख्यमंत्री की घोषणा पर नाथ ने तंज कसते हुए कहा कि अब शिवराज सिंह चौहान पांच, सात साल तक ठेलिया ही चलाएंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार की नीति और नीयत स्पष्ट नहीं है। पेट्रोल-डीजल के दाम कम करने को लेकर उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार झूठी वाहवाही लूट रही है, पहले पेट्रोल के दाम 50 रुपये तक बढ़ा दिए, अब सात रुपये कम कर खुद की पीठ थपथपा रही है।

ओबीसी वर्ग से हुआ छलावा

कमल नाथ ने ओबीसी आरक्षण को लेकर भी शिवराज सरकार पर जमकर निशाना साधा। ओबीसी वर्ग को सुप्रीम कोर्ट से मिले आरक्षण को लेकर सरकार के द्वारा श्रेय लेने के सवाल पर उन्होंने कहा कि सरकार का ये धोखा है, फरेब है। हमने विधानसभा में यह संकल्प पारित किया था कि जब तक ओबीसी आरक्षण लागू नहीं होगा, तब तक चुनाव नहीं होंगे। तब यह सुप्रीम कोर्ट गए। कोर्ट ने यह कहा कि इनकी जो ट्रिपल टेस्ट की रिपोर्ट है वह अधूरी है। तब इन्होंने फिर से रिपोर्ट बनाई। अब जो आरक्षण हो रहा है। हम उसका स्वागत तो करते हैं, लेकिन यह हमारे पिछ़़डे वर्ग के साथ घोर अन्याय है, क्योंकि कहीं पांच प्रतिशत तो कहीं 10 प्रतिशत ही आरक्षण मिलेगा। यह लड़ाई हम आगे भी लड़ेंगे।

Edited By: Sachin Kumar Mishra