Move to Jagran APP

Madhya Pradesh: शिवपुरी कलेक्टर ऑफिस में लगी भीषण आग, कई विभागों के डॉक्यूमेंट्स जलकर राख; जांच के लिए समिति का गठन

मध्य प्रदेश के शिवपुरी में जिला कलेक्टर कार्यालय में लगी भीषण आग में कई दस्तावेज जलकर राख हो गए। अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी। एक अधिकारी ने बताया कि आग शुक्रवार और शनिवार की दरम्यानी रात लगी जिसके बाद राज्य आपदा आपातकालीन प्रतिक्रिया बल को बुलाया गया। उन्होंने बताया कि आग में भूमि शिकायत निवारण भूमि अधिग्रहण और कुछ अन्य अनुभागों और विभागों के रिकॉर्ड नष्ट हो गए।

By Agency Edited By: Nidhi Avinash Published: Sat, 18 May 2024 01:30 PM (IST)Updated: Sat, 18 May 2024 01:30 PM (IST)
शिवपुरी कलेक्टर ऑफिस में लगी भीषण आग (Image: Jagran)

पीटीआई, शिवपुरी। मध्य प्रदेश के शिवपुरी में जिला कलेक्टर कार्यालय में भीषण आग लग गई। इसमें कई दस्तावेज जलकर राख हो गए। शनिवार को दी गई जानकारी में अधिकारी ने बताया कि आग शुक्रवार और शनिवार की दरम्यानी रात लगी, जिसके बाद राज्य आपदा आपातकालीन प्रतिक्रिया बल (एसडीईआरएफ) को बुलाया गया।

इन विभागों के रिकॉर्ड जलकर राख

जिला कलेक्टर रवींद्र चौधरी ने बताया कि अधिकारियों को सुबह करीब 5 बजे आग लगने की सूचना मिली। उन्होंने बताया कि शनिवार सुबह करीब 8 बजे आग पर काबू पाया गया, तब तक कई विभागों के दस्तावेज जलकर खाक हो चुके थे। उन्होंने बताया कि आग में नजूल (भूमि), शिकायत निवारण, भूमि अधिग्रहण और कुछ अन्य विभागों के रिकॉर्ड जलकर खाक हो गए।

जांच के लिए समीति का गठन

चौधरी ने बताया कि घटना की जांच के लिए सब डिविजनल मजिस्ट्रेट (एसडीएम) की अध्यक्षता में एक समिति गठित की जा रही है। उन्होंने कहा कि जांच के बाद आग लगने के कारणों का पता चल सकेगा। घटनास्थल के सीसीटीवी फुटेज में देखा गया कि ऑफिस में दो अज्ञात युवक आए और उन्होंने रिकॉर्ड शाखा में आग लगाई और वहां से भाग निकले। पुलिस आरोपियों को तलाशने में जुटी हुई है। 

दो अज्ञात व्यक्तियों ने जलाया ऑफिस

कलेक्टर रवींद्र कुमार चौधरी ने मामले को लेकर कहा कि 'आग नाजिर के स्टोर रूम, नजूल के कुछ हिस्सों में लगी है। भू-अर्जन के हमारे रिकार्ड सुरक्षित है। कुछ रिकार्ड हमारा ऑनलाइन है जिसे हम वापिस ले सकते हैं। आग कैसे लगी यह फिलहाल स्पष्ट नहीं है। हम एडीएम साहब की अध्यक्षता में एक टीम बनाएंगे जो पूरे मामले की जांच करेगी कि रिकार्ड कैसे जला। किस-किस रिकार्ड का नुकसान हुआ है, यह तो पूरी पड़ताल के बाद ही स्पष्ट हो पाएगा।'

यह भी पढ़ें: पांच साल में MP की GSDP दोगुना करने का लक्ष्‍य, CM मोहन यादव ने अधि‍कारियों के साथ की बैठक; दिए दिशा-निर्देश

यह भी पढ़ें:  Bhojshala ASI Survey: भोजशाला में दो और बड़े पाषाण अवशेष मिले, एक-एक क्विंटल से ज्यादा है वजन


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.