Move to Jagran APP

Jharkhand Election: मतदाताओं को जागरूक करने में जुटे संघ के स्वयंसेवक, लोगों से वोट डालने की कर रहे अपील

लोकसभा चुनाव में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ भी अपनी भूमिका निभा रहा है और संघ ने चुनाव में लोगों को मतदान के प्रति जागरूक करने को लेकर अपने स्वयंसेवकों को सक्रिय किया है। झारखंड में भी खूंटी लोहरदगा सिंहभूम पलामू में लोकसभा सीटों पर स्वयंसेवकों ने मतदान के दिन लोगों को प्रेरित किया। वहीं आरएसएस के संघचालक डॉ. मोहन भागवत भी कई बार लोगों से ऐसा ही आह्वान कर चुके हैं।

By sanjay kumarEdited By: Shoyeb Ahmed Published: Sun, 19 May 2024 11:16 PM (IST)Updated: Sun, 19 May 2024 11:16 PM (IST)
मतदाताओं को जागरूक करने में जुटे संघ के स्वयंसेवक

संजय कुमार, रांची। लोकसभा चुनाव में लोगों को मतदान के प्रति जागरूक करने को लेकर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने भी अपने स्वयंसेवकों को सक्रिय किया है। संघ और समविचारी संगठनों के कार्यकर्ता पहले चरण के चुनाव के वक्त से ही इसे लेकर घर-घर गांव-गांव घूम रहे हैं।

झारखंड में भी खूंटी, लोहरदगा, सिंहभूम और पलामू में स्वयंसेवकों ने मतदान के दिन घूम-घूम कर लोगों को मतदान के लिए प्रेरित किया और मतदाता शक्ति का आह्वान करते हुए उन्हें राष्ट्र निर्माण व विकास के नाम पर घरों से निकाल मतदान करने के लिए बूथों की ओर भेजा।

आरएसएस के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत भी कई बार लोगों से अपने मत का प्रयोग निश्चित रूप से करने का आह्वान कर चुके हैं। इन अभियानों का असर भी दिख रहा है।

पहले चरण में इन सीटों पर ज्यादा हुआ मतदान

झारखंड में पहले चरण में हुए चुनाव में पलामू को छोड़ अन्य तीनों सीटों खूंटी, सिंहभूम और लोहरदगा में पिछले लोकसभा चुनाव की तुलना में ज्यादा मतदान हुआ है। 20 मई को हजारीबाग, चतरा और कोडरमा लोकसभा के लिए चुनाव है। सभी स्थानों पर संघ के स्वयंसेवक सक्रिय हैं।

संघ के राष्ट्रीय पदाधिकारी कर रहे बैठकें

मतदाता जागरूकता के लिए अलग-अलग राज्यों के लिए प्रभारी बनाए गए संघ के राष्ट्रीय पदाधिकारी प्रत्यक्ष बैठकें लगातार ले ही रहे हैं। जरूरत पड़ने पर ऑनलाइन बैठकें भी लेकर रिपोर्ट ले रहे हैं। शहर से लेकर गांवों तक छोटी-छोटी टोली बनाकर स्वयंसेवकों को सक्रिय किया जा रहा है।

संघ के साथ-साथ जिस समवैचारिक संगठनों का काम जिन-जिन इलाकों में है, वहां पर समन्वय वनाकर काम किया जा रहा है। वैसे तो मतदाताओं से वोट करने की अपील करने के दौरान किसी पार्टी विशेष का नाम ये लोग नहीं लेते हैं, लेकिन मुद्दों की बात करते हैं। जागरूक मतदाता भी संघ का जुड़ाव किस दल के नजदीक है समझ ही जाते हैं। चार चरणों के मतदान हो चुके हैं।

लोकसभा और विधानसभा के लिए बनाए गए हैं संयोजक व सह संयोजक

मतदाताओं तक पहुंचने के लिए झारखंड सहित सभी राज्यों में समन्वय बनाकर संघ काम कर रहा है। दो से तीन लोकसभा का एक कलस्टर बनाया गया है और उसके संयोजक व सह संयोजक बनाए गए हैं। उसके बाद सभी लोकसभा के लिए एक संयोजक व सह संयोजक बनाए गए हैं।

इसके साथ ही सभी विधानसभा के लिए एक संयोजक व सह संयोजक बनाए गए हैं। उसके बाद सभी प्रखंडों से लेकर पंचायतों में प्रमुख बनाए गए हैं और वे सभी पंचायतों में टोली का संगठन कर मतदाताओं को जागरूक करने का काम कर रहे हैं।

शहरों से लेकर सभी गांवों में छोटी-छोटी टोली की बैठकें हो रही हैं। लोगों से अपने मत का प्रयोग अनिवार्य रूप से करने का आग्रह किया जा रहा है।

इन मुद्दों को ध्यान में रखकर वोट करने का किया आग्रह

मतदाताओं के बीच विश्व में बढ़ रही भारत की ताकत, नए भारत का निर्माण, 500 वर्षों के संघर्ष के बाद राम मंदिर का निर्माण, भारत का सांस्कृतिक उत्थान, महिलाओं का सम्मान, सड़क, बिजली, पानी, आयुष्मान योजना, जन-धन योजना, देश की आंतरिक ल बाह्य सुरक्षा, किसानों का सम्मान आदि विषयों को रखते हैं। लोगों से इन मुद्दों को ध्यान में रखते हुए वोट करने का आग्रह करते हैं।

इस अभियान में आरएसएस के स्वयंसेवकों के साथ-साथ विहिप, अभाविप, विकास भारती, सेवा भारती, एकल अभियान, हिंदू जागरण मंच, वनवासी कल्याण आश्रम, आरोग्य भारती, राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ, क्रीड़ा भारती जैसे 36 से अधिक समवैचारिक संगठनों के कार्यकर्ता लगे हैं।

ये भी पढे़ं-

'प्रशासन पस्त, फैक्ट्री वाले मस्त', प्रदूषण के खिलाफ लोगों ने खोला मोर्चा; वोट बहिष्कार की दी चेतावनी

Jharkhand की 73 मतदान केंद्रों पर कल महिलाओं की होगी जिम्मेदारी, 3 लोकसभा सीट पर होगा चुनाव


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.