Move to Jagran APP

लेफ्टिनेंट जनरल विजय कुमार मिश्रा ने झारखंडियों का बढ़ाया मान, परम विशिष्ट सेवा मेडल से हुए सम्‍मानित

लेफ्टिनेंट जनरल विजय कुमार मिश्रा जिस परम विशिष्ट सेवा पदक से सम्‍मानित हुए हैं वह सशस्त्र सीमा बल और भारतीय सेना के समस्त रेंज के अधिकारी और जवानों को उनकी असाधारण कार्य और सेवा के लिए दिया जाता है ।

By Jagran NewsEdited By: Arijita SenPublished: Sat, 28 Jan 2023 10:09 AM (IST)Updated: Sat, 28 Jan 2023 10:09 AM (IST)
लेफ्टिनेंट जनरल विजय कुमार मिश्रा का वीरता पुरस्‍कारों की सूची में नाम शामिल

जागरण संवाददाता, धनबाद। भारत सरकार द्वारा गणतंत्र दिवस पर दिए जाने वाले वीरता पुरस्कारों की सूची में लेफ्टिनेंट जनरल विजय कुमार मिश्रा का नाम शामिल होते ही झारखंड में भी खुशी की लहर दौड़ गई। इससे रांची सहित धनबाद को भी गौरवान्वित होने का मौका मिला। एक तरफ जहां मिश्रा ने अपनी सेवा के चार महत्वपूर्ण वर्ष रांची में दिए, वहीं उनके ससुराल पक्ष से जुड़े स्वजन धनबाद में बसे हुए हैं।

loksabha election banner

लेफ्टिनेंट जनरल मिश्रा के परिवार का सेना में सेवा का पुराना इतिहास

अपने झारखंड प्रवास को याद करते हुए मिश्रा कहते हैं कि वह झारखंड के रांची में 2015 से 2018 तक पदस्थापित रहे। जहां वह बतौर ब्रिगेडियर और मेजर जनरल जैसे भारतीय थल सेना के महत्वपूर्ण पदों पर अपनी सेवा दी। फिलहाल वह इंडियन मिलिट्री अकादमी देहरादून मे लेफ्टिनेंट जनरल के पद पर अपनी सेवा दे रहे हैं।

मूलत: बिहार के मुजफ्फरपुर जिला के सिलौत वासुदेव गांव के रहने वाले मिश्रा के परिवार का भारतीय सेना में सेवा करने का पुराना इतिहास रहा है। उनके पिता प्रभाकर मिश्रा भी भारतीय सेना में अधिकारी रहे थे। यही कारण था कि उन्होंने अपने इकलौते पुत्र को सेना में जाने के लिए प्रेरित किया।

लेफ्टिनेंट जनरल मिश्रा ने संभाली कई अहम पदों की जिम्‍मेदारी

लेफ्टिनेंट जनरल विजय कुमार मिश्रा को इसके पहले वर्ष 2021 में अति विशिष्ट सेवा पदक मिल चुका है। भारतीय सैन्य अकादमी के छात्र मिश्रा को दिसंबर 1985 में जम्मू और कश्मीर राइफल्स की 17वीं बटालियन में नियुक्त किया गया था। वह डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कालेज, वेलिंगटन से स्नातक होने के साथ आर्मी वार कॉलेज, महू के साथ ही नई दिल्ली के प्रतिष्ठित नेशनल डिफेंस कालेज में हायर कमांड कोर्स में पढ़ाई की है। वह सेना मुख्यालय में अतिरिक्त महानिदेशक के रूप में तैनात रह चुके हैं। 2021 और 2022 के गणतंत्र दिवस परेड का भी इन्होंने नेतृत्व किया था। 

लेफ्टिनेंट जनरल मिश्रा का धनबाद से ऐसे रहा है गहरा नाता

मिश्रा का धनबाद से भी गहरा नाता रहा है, जहां उनके एक साला बीसीसीएल से रिटायर होने के बाद एक स्कूल का संचालन कर रहे हैं। वह बीसीसीएल में महाप्रबंधक के रूप में अपनी सेवा कई कोलियरियों में दे चुके हैं।

यह भी पढ़ें- Fire Accident in Dhanbad: धनबाद के अस्पताल में लगी भीषण आग, 6 लोगों की दम घुटने से मौत


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.