Move to Jagran APP

लोकसभा चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों की बढ़ गई औसत संपत्ति, इस बार 69 उम्मीदवार करोड़पति

झारखंड की 14 सीटों पर चुनाव रहे प्रत्याशियों की औसत संपत्ति में वृद्धि हुई है। 2019 चुनाव में इन उम्मीदवारों की औसत संपत्ति 1.70 करोड़ रुपये थी जो इस बार 2.56 करोड़ हो गई। इधर करोड़पति उम्मीदवारों की संख्या भी 28 प्रतिशत हो गई है। वहीं संताल के रण में भाग्य आजमा रहे प्रत्याशियों की अन्य चरणों के उम्मीदवारों से औसत संपत्ति ज्यादा है।

By Neeraj Ambastha Edited By: Shashank Shekhar Published: Tue, 28 May 2024 08:15 PM (IST)Updated: Tue, 28 May 2024 08:15 PM (IST)
लोकसभा चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों की बढ़ गई औसत संपत्ति, इस बार 69 उम्मीदवार करोड़पति

नीरज अम्बष्ठ, रांची। झारखंड में 14 संसदीय सीटों पर चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों की औसत संपत्ति में इस बार 86 लाख की वृद्धि हुई है। वर्ष 2019 के पिछले चुनाव में उम्मीदवारों की औसत संपत्ति 1.70 करोड़ रुपये थी, जो इस लोकसभा चुनाव में बढ़कर 2.56 करोड़ हो गई है। वहीं, करोड़पति उम्मीदवारों की संख्या भी 26 प्रतिशत से बढ़कर 28 प्रतिशत हो गई है।

पिछले लोकसभा चुनाव में कुल 229 उम्मीदवारों ने चुनाव लड़ा था, जिनमें 60 उम्मीदवारों की संपत्ति एक करोड़ रुपये या इससे अधिक थी। इस बार कुल 244 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं। इनमें 69 उम्मीदवार संपत्ति के मामले में करोड़पति उम्मीदवारों के दायरे में आते हैं।

सभी उम्मीदवारों की औसत संपत्ति 2.56 करोड़

सभी उम्मीदवारों की औसत संपत्ति देखें तो यह 2.56 करोड़ रुपये है। लोकसभा चुनाव के विभिन्न चरणों के उम्मीदवारों की बात करें तो सबसे अधिक औसत संपत्ति अंतिम चरण के उम्मीदवारों की है। अंतिम चरण में संताल परगना प्रमंडल की तीन सीटों राजमहल, दुमका और गोड्डा में चुनाव हो रहा है, जिनके कुल 52 उम्मीदवारों की औसत संपत्ति 3.72 करोड़ रुपये है।

इसके बाद दूसरे चरण की सीटों पर चुनाव लड़नेवाले उम्मीदवारों की औसत संपत्ति कुल 3.52 करोड़ रुपये है। इस मामले में तीसरे चरण की सीटों पर चुनाव लड़नेवाले उम्मीदवारों की औसत संपत्ति सबसे कम 1.28 करोड़ रुपये है। पहले चरण की चार सीटों पर चुनाव लड़नेवाले उम्मीदवारों की औसत आयु 1.75 करोड़ रुपये है।

इस चुनाव में आपराधिक रिकॉर्ड वाले उम्मीदवारों की संख्या भी बढ़ी

इस लोकसभा चुनाव में झारखंड में आपराधिक रिकार्ड वाले उम्मीदवारों की संख्या भी बढ़ी है। पिछले लोकसभा चुनाव में ऐसे उम्मीदवारों की संख्या 51 थी। कुल उम्मीदवारों में 22 प्रतिशत उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले दर्ज थे। इस बार कुल 69 अर्थात 28 प्रतिशत उम्मीदवारों ने अपने शपथपत्र में आपराधिक मामले होने की जानकारी दी है। गंभीर मामले वाले उम्मीदवारों की संख्या भी 18 से बढ़कर 20 प्रतिशत हो गई है।

उम्मीदवारों के विरुद्ध आपराधिक मामले और उनकी संपत्ति

सीटें - कुल उम्मीदवार - जिनपर हैं आपराधिक मामले -    गंभीर आपराधिक मामले - करोड़पति - औसत संपत्ति

पहला चरण (सिंहभूम, खूंटी, लोहरदगा, पलामू) 45, 13                09                       15              1.75

दूसरा चरण (चतरा, कोडरमा, हजारीबाग) 54, 18                       09                        21              3.52

तीसरा चरण (रांची, धनबाद, जमशेदपुर, गिरिडीह) 93, 28            20                       25             1.28

चौथा चरण (राजमहल, दुमका, गोड्डा) 52, 10                             10                        09              3.72

नोट : औसत संपत्ति करोड़ में है।

ये भी पढ़ें- 

निशिकांत दुबे का चौका रोकने को महागठबंधन ने सजाई फिल्डिंग, स्टार प्रचारकों को दिया बड़ा टास्क

एयर फोर्स में नौकरी का बढ़िया मौका, अगर आपके पास है ये क्वालिटी तो हो जाएं तैयार; पढ़ लें डिटेल


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.