मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

देवघर, जेएनएन। महाशिवरात्रि पर देवघर के बाबा मंदिर में श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा। भक्तों की भीड़ करीब तीन किलोमीटर की है। झांकी की तैयारी चल रही है। शिव बारात शाम को नगर स्टेडियम से निकलेगी। सुखद संयोग है कि सोमवार के दिन शिव विवाह है। महोत्सव समिति की ओर से निकलने वाली बारात की झांकी का 26 वां साल है। पूरा शहर सज गया है। बाबा मंदिर को फूलों से सजाया गया है। 

इस बीच, सीएम रघुवर दास ने ट्वीट कर महाशिवरात्रि की शुभकामनाएं दी हैं। सीएम ने भगवान शिव की पूजा अर्चना कर राज्य की खुशहाली और समृद्धि के लिए प्रार्थना की। 

बासुकीनाथ मंदिर में भोलेनाथ के गुंबद पर पंचशूल, त्रिशूल, पगड़ी व ध्वजा चढ़ाई गई। 

बासुकीनाथ में भोलेनाथ व माता पार्वती को लगा उबटन 
बासुकीनाथ मंदिर में महाशिवरात्रि के पावन पर्व की शुरुआत एक दिन पहले ही हो चुकी थी। रविवार को संयत के दिन भोलेनाथ को हल्दी चढ़ाने के साथ-साथ लावा कांसा भुंजकर पारंपरिक तरीके से हरिद्रालेपन व विवाह की रस्म अदायगी शुरू की गई। इस उपलक्ष्य मे मंदिर प्रबंधन के द्वारा संध्या समय मंदिर में साधु संतों के बीच सदाव्रत, चावल, दाल व आलू का वितरण किया गया।

महाशिवरात्रि को लेकर बाबा नागेश के दरबार में अनुष्ठान पहले ही प्रारंभ हो गया था, बाबा बासुकीनाथ के विवाहोत्सव के एक दिन पूर्व रविवार को भोलेनाथ एवं मैया पार्वती सहित दसों महाविद्याओं को उबटन लगाया गया था। इसके पूर्व मंदिर कर्मचारी, विधिकर फुलेश्वर कुंवर, शौखी कुंवर एवं उनके परिजनों की महिलाओं के द्वारा लावा-कांसा भूंजकर उसे पीसकर हल्दी, मेथी, कांसा, सरसों मिलाकर उबटन बनाया गया। जिसे बाबा बासुकीनाथ एवं माता पार्वती सहित दस महाविद्याओं को लगाया गया। मालूम हो कि पूरे वर्ष भर में भोलेनाथ को एक बार ही सरसों तेल लगाया जाता है। अन्य दिनों में भोलेनाथ पर सरसों तेल चढ़ाना निषिद्ध है।

बनारस के शहनाई वादक की धुन पर विवाह  

बासुकीनाथ मंदिर में इस वर्ष भी बनारस के शहनाई वादक मोहम्मद गजीम हुसैन उर्फ काजिम की शहनाई की धुन पर बाबा बासुकीनाथ का विवाह उत्सव कार्यक्रम होगा। मंदिर प्रबंधन से प्राप्त जानकारी के अनुसार बनारस के शहनाई वादक मोहम्मद गजीम हुसैन उर्फ काजिम एवं उनके सहयोगी सोमवार को महाशिवरात्रि विवाहोत्सव के पूर्व बासुकीनाथ पहुंच जाएंगे। इसके अलावा भागलपुर के कलाकारों के द्वारा शिव बारात की भव्य झांकी एवं कोलकाता व भागलपुर से आए आतिशबाजों के द्वारा भव्य आतिशबाजी का प्रदर्शन किया जाएगा। 

शिवालयों एवं मंदिरों में दिन भर शिव भक्तों की उमड़ेगी भीड़

संयोग है कि महाशिवरात्रि सोमवार को पड़ रहा है। शिवालयों एवं मंदिरों में दिन भर शिव भक्तों की भीड़ उमड़ेगी। भोले के जयकारों से माहौल भक्तिमय हो जाएगा। जलाभिषेक के लिए मंदिरों में भक्तों का तांता लगा रहेगा। वैदिक मंत्रों उच्चारण के साथ पूजा अर्चना की जाएगी। इस बार महाशिवरात्रि इस वजह से भी खास है कि सोमवार के दिन महाशिवरात्रि का त्योहार मनाया जा रहा है। पूजा-अर्चना करने को लेकर शिवालयों में भारी संख्या में श्रद्धालु उमड़ेंगे। श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए नियंत्रण के कई उपाय सहित अन्य व्यवस्थाओं को लेकर मंदिर समिति और आयोजन समिति द्वारा ठोस इंतजाम किए गए हैं।

महाशिवरात्रि के मौके पर भगवान शिव और माता पार्वती की पूजा-अर्चना कर श्रद्धालु अपने परिवार की सुख, समृद्धि और शांति की प्रार्थना करेंगे। महाशिवरात्रि के इस अद्भुत संयोग में हर कोई भगवान भोलेनाथ का दर्शन कर अपने आप को कृतज्ञ करना चाहता है। इसके लिए सुबह से ही शिवालयों में श्रद्धालुओं की भीड़ जमा होने लगी है। 

यह भी पढ़ेंः मानसरोवर जाने वाले भक्‍तों को मुख्‍यमंत्री ने दिए एक-एक लाख

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप