जम्मू, जेएनएन। Kashmir Snowfall श्रीनगर समेत वादी के सभी निचले इलाकों में वीरवार को मौसम का पहला भारी हिमपात हुआ। इससे जम्मू-श्रीनगर हाईवे यातायात के लिए बंद हो गया है। श्रीनगर एयरपोर्ट पर रनवे पर भी बर्फ की मोटी परत बिछ जाने से सभी उड़ानों को रद कर दिया गया। इससे कश्मीर का सड़क व हवाई संपर्क देश-दुनिया से पूरी तरह कट गया है। वहीं, राजौरी-पुंछ को कश्मीर से जोड़ने वाला मुगल रोड और लेह-श्रीनगर हाईवे दूसरे दिन भी बंद रहा। 

मुगल रोड पर बर्फ में फंसे 13 लोगों को सुरक्षाबलों ने बचाया। जम्मू संभाग में लाटी, बसंतगढ़, लोहाई मल्हार समेत कई ऊपरी इलाकों में बर्फबारी हुई। इस बीच, हिमस्खलन और बिगड़े मौसम से सेना के दो जवानों, दो पोर्टरों समेत सात लोगों की मौत हो गई। जम्मू में भी दिनभर बारिश जारी रही। पूरा राज्य ठंड की चपेट में है। जम्मू में ही एक दिन में अधिकतम तापमान 10 डिग्री व श्रीगनर का 16 डिग्री सेल्सियस नीचे गिर गया है।

वहीं बर्फबारी से निपटने के लिए प्रशासन ने कमान संभाल ली है। उच्च पर्वतीय इलाकों में हिमस्खलन की आशंका को देखते हुए लोगों को अगले 24 घंटे तक एहतियात बरतने की सलाह दी गई है। मौसम विभाग के अनुसार, शुक्रवार दोपहर बाद मौसम में सुधार होना शुरू हो जाएगा।

कश्मीर के उच्चपर्वतीय इलाकों में पिछले 24 घंटों से बारिश और बर्फबारी जारी है। वीरवार को जवाहर टनल के आसपास 10 इंच, पहलगाम में सात इंच, सोनमर्ग में एक फुट, श्रीनगर में पांच इंच, गुरेज में डेढ़ फुट, गुलमर्ग में सवा चार फुट बर्फ रिकार्ड की गई।  इधर, माता वैष्णो देवी में बारिश व बिजली लाइन में फाल्ट के कारण हेलीकाप्टर सेवा, बैटरी कार व केबल कार सेवा ठप रही, लेकिन यात्रा सुचारु रही।

कुपवाड़ा जिले के लंगेट में सुबह बर्फबारी के कारण फिसलन के कारण सैन्य वाहन पलटने से सेना के दो जवान राइफलमैन भीम बहादुर व गनर अखिलेश कुमार शहीद हो गए। भीम बहादुर उत्तराखंड के देहरादून जिले के गांव गोपीवाली अनारवाला के रहने वाले थे। वहीं अखिलेश कुमार मध्यप्रदेश के रेवा जिले के गोंडरी गांव के निवासी थे। 

श्रीनगर चिनार कोर में लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लो ने दोनों जवानों की हिमपात के बीच श्रद्धांजलि अर्पित की। इस बीच, कुपवाड़ा में नियंत्रण रेखा के पास बना सेना का कैंप हिमस्खलन की चपेट में आ गया। वहां तैनात दो पोर्टर बर्फ में दब गए। ये दोनों पोर्टर स्थानीय बताए जा रहे हैं। उनकी पहचान मंजूर और इशाक खान के तौर पर हुई है। एक अन्य हादसे में हिमस्खलन के कारण प्रभावित बिजली आपूर्ति को दुरुस्त करने का प्रयास करते बिजली विभाग के एक इंस्पेक्टर मंजूर अहमद की खंभे से गिरकर मौत हो गई। इसके अलावा श्रीनगर में चिनार का पेड़ टूटकर राहगीर पर गिरने से उसकी मौत हो गई। वहीं पुंछ जिले में चलती कार पर पेड़ सियासी के पौनी में बिजली गिरने से राजौरी के काला की मौत हो गई।

वहीं श्रीनगर में अधिकतम  तापमान 1.2 डिग्री और न्यूनतम -0.6 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। जम्मू में अधिकतम तापमान 16.9 व न्यूनतम 15.3 डिग्री रिकार्ड किया गया।

Himachal Weather Update: बर्फबारी और बारिश से हिमाचल में शीतलहर तेज, ठिठुरने लगे लोग

 

Posted By: Babita kashyap

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस