Move to Jagran APP

Shimla Politis: मंत्रिमंडल में स्थान पक्का करने के लिए दिल्ली में लाबिंग कर लौटे कांग्रेस विधायक

कांग्रेस विधायक मंत्री पद हासिल करने के लिए दिल्ली में लाबिंग करने के बाद शिमला लौटें हैं। अब मुख्यमंत्री सुक्खू के दिल्ली से लौटने और मंत्रियों की सूची जारी होने का इंतजार है। किस विधायक को मंत्रिमंडल में स्थान मिलता है इस पर लंबे समय से चर्चा हो रही है।

By rohit nagpalEdited By: Nidhi VinodiyaPublished: Thu, 22 Dec 2022 01:04 PM (IST)Updated: Thu, 22 Dec 2022 01:04 PM (IST)
मंत्रिमंडल में स्थान पक्का करने के लिए दिल्ली में लाबिंग कर लौटे कांग्रेस विधायक

शिमला, जागरण संवाददाता : कांग्रेस विधायक मंत्री पद हासिल करने के लिए दिल्ली में लाबिंग करने के बाद शिमला लौट आए हैं। इन्हें अब मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू के दिल्ली से लौटने और मंत्रियों की सूची जारी होने का इंतजार है। किस विधायक को मंत्रिमंडल में स्थान मिलता है, इस पर लंबे समय से चर्चा हो रही है। वरिष्ठता के आधार पर कांगड़ा से चंद्र कुमार, सुधीर शर्मा, शिमला से रोहित ठाकुर व अनिरुद्ध सिंह हैं।

विधायकों के बीच मंत्रिमंडल में शामिल होने के लिए रस्साकशी

विक्रमादित्य सिंह व कुलदीप राठौर भी इस दौड़ में शामिल हैं। बिलासपुर से राजेश धर्माणी, सिरमौर से हर्षवर्धन चौहान, किन्नौर से जगत सिंह नेगी सहित कुछ नाम की चर्चा है। सुक्खू सरकार में किसे मंत्रिमंडल में स्थान मिलता है यह तो समय तय करेगा लेकिन विधायकों के बीच मंत्रिमंडल में शामिल होने के लिए रस्साकशी चली हुई है। सभी अपने-अपने राजनीतिक आकाओं के माध्यम से मंत्रिमंडल में सीट पक्की करने के लिए लगे हुए हैं। इसके लिए पिछले दिनों सबने दिल्ली में काफी जद्दोजहद की। कुलदीप राठौर, अनिरुद्ध सिंह व विक्रमादित्य सिंह दिल्ली से शिमला लौट आए हैं।

नहीं हुआ मंत्रिमंडल का विस्तार

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रतिभा सिंह लोकसभा का सत्र होने के कारण दिल्ली में रुकी हैं। कांगड़ा से सुधीर शर्मा सहित अन्य विधायक व हमीरपुर जिले के विधायक भी लौट आए हैं। अब वे हाईकमान की ओर से मंजूर की गई मंत्रियों की सूची जारी होने का इंतजार कर रहे हैं। मुख्यमंत्री के लौटने के बाद ही आगामी प्रक्रिया पूरी होगी। सरकार के गठन के बाद मुख्यमंत्री व उप मुख्यमंत्री को शपथ दिलाई गई है और मंत्रिमंडल का विस्तार अभी तक नहीं हुआ है। मंत्रिमंडल में किसे शामिल किया जाएगा, इस पर राजनीतिक गलियारों में चर्चा जारी है।

Shimla News: क्रिसमस और नए साल में जाम से बचाएगी, कुफरी से शोधी तक हर मोड़ पे होगी तैनाती

Himachal Tourism: शिमला, धर्मशाला और मनाली घूमने आना है तो कर लें पहले व्यवस्था



This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.