गगल, संवाद सहयोगी। Kangra Crime News, हिमाचल प्रदेश में साइबर क्राइम तेजी से बढ़ता जा रहा है। साइबर ठग चालाकी से लोगों को मोटी चपत लगा रहे हैं। लोगों के खून पसीने की कमाई को पलभर में लूट ले रहे हैं। गगल के नजदीक बैंक ऑफ इंडिया के एटीएम में कार्ड बदलकर किसी शातिर ने खाताधारक के 7000 रुपये निकाल लिए। पीडि़त स्वरूप कुमार पुत्र रतन चंद निवासी सहोड़ा ने बताया कि वह शनिवार को बैंक आफ इंडिया के एटीएम से पैसे निकाल रहा था, लेकिन पैसे नहीं निकल रहे थे। एटीएम के अंदर ही उनके पीछे एक अज्ञात व्यक्ति खड़ा था, जिसने उसका एटीएम कार्ड लिया और मशीन में डाल दिया। लेकिन फिर भी पैसे नहीं निकले और वह अज्ञात व्यक्ति वहां से निकल गया।

लेकिन कुछ देर बाद पता चला कि वह व्यक्ति उनका ही एटीएम कार्ड मशीन से उड़ा कर ले गया और अपना एटीएम उन्‍हें थमा गया था। इस पर उन्‍होंने यूको बैंक गगल की शाखा में पता किया तो उनके खाते से 7000 रुपये निकल चुके थे। इस बारे में गगल पुलिस थाना में रिपोर्ट दर्ज करवा दी है।

यह भी पढ़ें: HP Police Bharti: पुलिस भर्ती के लिए आठ जगह हेल्प डेस्क स्थापित, पहली अक्टूबर से भरे जाएंगे आनलाइन फार्म

संजौली बाजार में एटीएम तोडऩे  के आरोपित निकले नाबालिग

शिमला। राजधानी के उपनगर संजौली में आधी रात को यूको बैंक की एटीएम को तोडऩे का प्रयास करने के मामले में पुलिस ने आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों आरोपित नाबालिग हैं। पिछले सप्ताह पुलिस ने मामला दर्ज इस मामले की जांच शुरू की थी। शातिरों ने बैंक के बाहर लगे एटीएम मशीन को तोडऩे की कोशिश और नाकाम रहने पर वहां से भाग निकले थे। नकाबपोशों की तस्वीरें एटीएम को तोड़ते हुए कैमरे में कैद हुई हैं। पुलिस ने शहर में अन्य स्थानों पर सीसीटीवी फुटेज और फ्रींगर ङ्क्षप्रट के नमूने जांच के लिए भेजे थे। इसी के आधार पर आरोपितों को गिरफ्तार किया गया है।

Edited By: Rajesh Kumar Sharma