शिमला, यादवेन्द्र शर्मा। Himachal Coronavirus Recovery Rate, हिमाचल प्रदेश में कोरोना को लोगों का हौसला हराने लगा है। यहां एक सप्ताह के दौरान स्वस्थ होने की दर बढ़कर 75.50 फीसद हो गई है। हालांकि पॉजिटिव केस और मौत के मामलों में अब भी कमी नहीं आ रही। इस सप्ताह में प्रदेश के चार जिलों सोलन, सिरमौर, किन्नौर और लाहुल स्पीति में नए मामलों की अपेक्षा स्वस्थ होने वालों की संख्या बढ़ी है। कर्फ्यू की सख्‍ती और लोगों के सहयोग से संक्रमण के नए मामलों में भी कमी देखने को मिल रही है।

यह भी पढ़ें: अस्‍पताल देरी से जाने और लक्षणों की अनदेखी के कारण गंभीर हालत में पहुंच रहे मरीज, जानिए विशेषज्ञों की राय

15 मार्च से 16 मई तक कोरोना की स्थिति

  • अवधि,नए पॉजिटिव,स्वस्थ,मृत्यु,एक्टिव
  • 15 से 21 मार्च,1003,490,12,1256
  • 22 से 28 मार्च,1982,739,18,2478
  • 29 मार्च से चार अप्रैल,2584,1442,35,3577
  • 05 से 11 अप्रैल,4444,2490,45,5369
  • 12 से 18 अप्रैल,6689,3289,75,8696,
  • 19 से 25 अप्रैल 11126,6077,145,13577
  • 26 अप्रैल से दो मई,25298,8674,206,20727
  • 3 मई से नौ मई,24302,13366,273,32469
  • 10 मई से 16 मई,24458,21590,386,36909
  • कुल,101886, 58157,1195,36909

हिमाचल में 10 से 16 मई तक कोरोना की स्थिति

  • जिला, पॉजिटिव, स्वस्थ, मृत्यु, एक्टिव
  • बिलासपुर,1738,1617,01,2832
  • चंबा,1734,1042,15,2350
  • हमीरपुर,1874,1711,31,2701
  • कांगड़ा,7143,5509,132,11579
  • किन्नौर,174,226,03,363
  • कुल्लू,1174,508,07,905
  • लाहुल स्पीति,169,199,01,231
  • मंडी,3375,2950,43,3871
  • शिमला,2177,2186,56,3128
  • सिरमौर,1777,1959,21,2846
  • सोलन,2222,2670,38,3464
  • ऊना,1531,1013,38,2639
  • कुल,24458,21590,386,36909

प्रदेश सरकार की ओर से की गई सख्ती

  • 26  मई तक सुबह छह बजे तक कोरोना कर्फ्यू लागू।
  • आवश्यक सेवाओं व वस्तुओं से संबंधित दुकानों को केवल तीन घंटे खोलने की अनुमति।
  • शादी व अन्य समारोह शर्तों के साथ घर में होंगे।
  • बसों की आवाजाही पूरी तरह से बंद, निजी वाहन केवल आवश्यक सेवाओं से संबंधित चलेंगे।
  • सरकारी व निजी कार्यालय भी पूरी तरह से बंद
  • सार्वजनिक धाम पर पूर्ण प्रतिबंध

कर्फ्यू बढ़ाया और टेस्टिंग भी

मिशन निदेशक राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन हिमाचल प्रदेश डा. निपुण जिंदल का कहना है कोरोना कर्फ्यू के दौरान भी मामलों के बढऩे और लगातार मौतों को देखते हुए कोरोना कर्फ्यू को बढ़ाया गया है। स्वस्थ होने वालों की दर बढ़ी है। कोरोना जांच के लिए टेस्टिंग को बढ़ाया गया है।

यह भी पढ़ें: कांगड़ा में मां की मृत्यु के पांच दिन बाद कोरोना ने बेटे की भी ले ली जान, टांडा मेडिकल कॉलेज में तोड़ा दम

स्वस्थ होने के बाद की फॉलोअप स्ट्रेटजी जारी

प्रदेश सरकार ने कोविड-19 मरीजों के स्वस्थ होने के बाद उनके लिए फॉलोअप स्ट्रेटजी यानी प्रक्रिया जारी कर दी है। फरवरी 2021 में करीब 200 सक्रिय मामले थे, लेकिन अब 34258 हो गए हैं। कई लोग स्वस्थ होने के बाद थकान, शरीर में दर्द, खांसी, गले में खराश व सांस लेने में कठिनाई सहित कई तरह के लक्षण बता रहे हैं। ऐसे में पोस्ट-कोविड फॉलोअप प्रोटोकॉल का पालन आवश्यक है। चिकित्सक की सलाह के अनुसार नियमित दवाएं लें। डाक्टर को उन सभी दवाओं के बारे में सूचित करें जो पहले से ले रहे हैं। रक्तचाप, शुगर आदि की नियमित जांच जरूरी है। अगर लगातार सूखी खांसी, गले में खराश हो तो  गरारे करें और गर्म भाप से सांस लें। खांसी की दवा चिकित्सक या आयुष के योग्य चिकित्सक की सलाह पर ही लें। छुट्टी के बाद सात दिन में परामर्श लेना जरूरी है जो फोन पर भी ले सकते हैं।