धर्मशाला, जागरण संवाददाता। हिमाचल प्रदेश केंद्रीय विश्‍वविद्यालय ने शोष पात्रता परीक्षा के लिए ऑनलाइन आवेदन की तिथि बढ़ाकर 17 सितंबर कर दी है। शोध पात्रता परीक्षा तीन अक्टूबर को होगी। जबकि परिणाम की घोषणा दस अक्टूबर को होगी। 

हिमाचल प्रदेश केंद्रीय विश्वविद्यालय द्वारा पीएचडी अध्ययन कार्यक्रमों में प्रवेश के लिए पात्रता निर्धारित करने के लिए सोध पात्रता परीक्षा का आयोजन किया जा रहा है। शोष पात्रता परीक्षा 25 विषयों पर ली जाएगी।

केंद्रीय विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक डा. सुमन शर्मा ने बताया कि केंद्रीय विश्वविद्यालय शोध पात्रता परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले आवेदन दो वर्ष तक पीएचडी प्रवेश प्रक्रिया के पात्र होंगे। उन्होंने बताया कि केंद्रीय विवि में विभिन्न स्नातकोत्तर अध्ययन कार्यक्रमों में प्रवेश की परीक्षा के विभिन्न प्रश्न पत्रों की उत्तरकूंजियां बेवसाइट पर अपलोड की गई थी।

ये भी पढ़ें: धर्मशाला में स्वर्णिम हिमाचल हिंदी दिवस पर सजी कवियों की महफिल, कहा हिंदी के लिए भी प्रेम है जरूरी

इन उत्तरकूंजियों पर केंद्रीय विवि द्वारा आपत्तियां मांगी थी। आपत्तियां आने पर केंद्रीय विवि द्वारा कुछ विषयों के प्रश्नपत्रों की रिवाइंज्ड उत्तरकूंजियां अपलोड की हैं। उन्होंने बताया कि शोध पात्रता परीक्षा के लिए आवेदन तिथि 17 सितंबर तक बढ़ा दी है। शोध पात्रता परीक्षा का आयोजन तीन अक्टूबर को होगा और परीक्षा परिणाम की घोषणा 10 अक्टूबर को किया जाएगा।

कार्यालय का लोकार्पण 16 सितंबर को

नगरोटा बगवां : पूर्व सैनिक संगठन द्वारा ग्राम पंचायत हटवास में नवनिर्मित कार्यालय उद्धघाटन 16 सितंबर को प्रातः 10 बजे नगरोटा बगवां के विधायक अरुण कुमार कुका करेंगे। यह जानकारी पूर्व सैनिक संगठन के अध्यक्ष कैप्‍टन कर्म चंद धीमान ने दी। उन्होंने बताया कि पूर्व सैनिक संगठन की ओर से हटवास में कार्यालय भवन का निर्माण किया है। भवन बनकर तैयार किया गया है। अब इस भवन का लोकार्पण विधायक अरुण कुका करेंगे। इसके लिए तैयारियां पूरी कर ली गई हैं।

ये भी पढ़ें: ज्वालामुखी मंदिर में बने फ्लाइओवर को प्रशासन ने किया रिजेक्ट, लोक निर्माण विभाग को नया डिजाइन बनाने के दिए आदेश

Edited By: Richa Rana