पानीपत/करनाल, जेएनएन। जीटी रोड किनारे नकली नोट का असली से अदला बदली का खेल चल रहा है। वेटर से 79 हजार के नकली नोट मिले हैं। ढाबा मालिक नकली नोटों सहित आरोपित को खुद थाने लेकर पहुंचा, जिसके बाद पुलिस ने केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया। 

आरोपित वेटर रामचंद्र मूल रूप से बिहार के बेगूसराय जिले का रहने वाला है। वह करीब 25 साल से ढाबे पर काम कर रहा था। आशंका जताई जा रही है कि जीटी रोड पर अन्य ढाबों पर गोरखधंधा चलाया जा रहा होगा, जिसके पीछे गिरोह भी हो सकता है।

गल्ले में लगातार दो दिन पड़े मिले नकली नोट तो हुआ शक : संजय

ढाबा संचालक संजय कुमार ने बताया कि वह रात करीब आठ बजे काउंटर पर आया तो गल्ले में 50 व 200 के नकली नोट दिखाई दिए। यह सिलसिला दूसरे दिन भी जारी रहा तो उसे शक हुआ। रामचंद्र अपनी मजदूरी लेने देर रात सबसे बाद में आया। उससे पूछा तो वह जवाब नहीं दे पाया। उसके कमरे की तलाशी ली तो करीब 10 हजार के नकली नोट मिले। पूछने पर उसने बताया कि यह उसे पार्किंग से मिले थे। बाद में उसके बैग आदि की जांच की तो उससे 200-200 रुपये के नोटों की तीन गड्डियां मिली तो 50 व 100 के अन्य नोट भी मिले। उसके पास कुल 79 हजार की नकली नोट मिले। उसे तत्काल ही सदर थाने में ले जाकर पुलिस को सौंप दिया।

karnal

आरोपित को लिया जाएगा पुलिस रिमांड पर : एसएचओ

एसएचओ संदीप कुमार ने बताया कि आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है। उसे बुधवार को अदालत में पेश रिमांड पर लिया जाएगा ताकि पता लगाया जा सके कि उसके पास नकली नोट कहां से आए। आशंका है कि ढाबे पर अक्‍सर दूर से भी आने वाले रुकते होंगे। ऐसे में वेटर असली के बदले नकली नोट ढाबे पर आने वाले लोगों  को देता था।

ये भी पढ़ें: NDRI में रहस्यमयी बीमारी से मुर्राह भैंसों की सिलसिलेवार मौत, विशेषज्ञ भी हैरान

ये भी पढ़ें: GT Road पर नकली नोट का खेल, ढाबे पर वेटर करता था असली से अदला बदली

Posted By: Anurag Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस