कुरुक्षेत्र/पिहोवा, जेएनएन। पिहोवा के शोरगीर मोहल्ले के 23 वर्षीय युवक सूरज की न्यूयार्क में सड़क दुर्घटना में मौत हो गई। वह न्यूयार्क के साउथ ओ पार्क में किराये के मकान में रह रहा था। अमेरिका में वह पिज्जा डिलीवरी करने का काम करता था। सूरज साढ़े तीन साल पहले अमेरिका गया था। बताया जा रहा है कि बुधवार देर रात कार एक्सीडेंट में मौत हो गई, जबकि उसके दो साथी जख्मी हो गए। बेटे की मौत की खबर सुनकर परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है तथा परिवार उसके शव को जल्दी ही भारत भेजने की गुहार लगा रहा है।

सूरज के बड़े भाई पवन ने बताया कि उसकी पिहोवा के मुख्य बाजार में उनकी फल व जूस की दुकान है। साढ़े तीन साल पहले उसके पिता ने उसके छोटे भाई सूरज को कर्ज लेकर अमेरिका भेजा था। सूरज न्यूयार्क में पिज्जा डिलीवरी करने का काम करता था। बुधवार सुबह उन्हें सूचना मिली थी कि उसके भाई सूरज का रात एक बजे एक्सीडेंट हो गया है तथा उसकी हालात गंभीर है। उसके बाद उन्होंने सूरज से संपर्क किया, लेकिन उसका फोन नहीं लगा। वे लगातार उससे संपर्क करने का प्रयास करते रहे। शाम को उन्हें जानकारी मिली कि सूरज की मौत हो गई है।

रात एक बजे घूमने निकला था सूरज

उन्होंने न्यूयार्क में अपने एक रिश्तेदार से घटना के बारे में पता चला कि सूरज अपने दो दोस्तों के साथ रात एक बजे कार में घूमने के लिए जा रहा था। वह आगे की सीट पर बैठा हुआ था। अचानक उनकी कार बेकाबू हो गई तथा दूसरी कार से टकरा गई, जिससे उसके सूरज की मौके पर ही मौत हो गई थी। दुर्घटना में उसका एक दोस्त घायल हो गया, जिसका अस्पताल में इलाज चल रहा है। वहीं दूसरा दोस्त मौके से फरार हो गया। उनको दुर्घटना की एक सीसीटीवी फुटेज भी प्राप्त मिली है। अब सूरज का शव आने का इंतजार है।

पैसे इकट्ठा करके शव भेजेंगे भारत

पवन ने बताया कि न्यूयार्क में सूरज के कुछ दोस्त पैसे इकट्ठा कर रहे है। उसी पैसे से सूरज का शव भारत भेजा जाएगा। इसमें लगभग 10 दिन में समय लेगेगा। उन्होंने विदेश मंत्रायल से गुहार लगाई है कि सूरज के शव को जल्दी मंगवान के लिए अमेरिका सरकार से बातचीत करे।

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

यह भी पढ़ें:  कोरोना महामारी के बीच आई नई मुसीबत, ऑक्सीजन भी होने लगी चोरी, पानीपत रिफाइनरी का टैंकर ले उड़े चोर

यह भी पढ़ें: 'सॉरी' लिखकर चोर ने लौटाई कोरोना वैक्सीन, हरियाणा में सामने आया चौकाने वाला मामला