चंडीगढ़, जेएनएन। हरियाणा में रविवार को तीन और कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजाें की पुष्टि हुई। अंबाला में तीन लोेग COVID-19 पाॅजिटिव पाए गए हैं। दूसरी ओर, राज्‍य के नौ जिलों में कोरोना का सफाया हो गया है। इसके साथ ही महामारी से जंग में कोरोनायोद्धाओं ने शतक पूरा कर लिया। कुल 14 और संक्रमित लोग ठीक होकर घरों को लौट गए। 

अंबाला में एक ही परिवार के तीन लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए

अंबाला के शहजादपुर में तीन और लोग पाॅजिटिव पाए गए। ये एक ही परिवार के हैं। जानकारी के अनुसार ये लोग पंचकूला में कोरोन पॉजिटिव पाए गए एक डाॅक्टर के संपर्क में आए थे। जिले में कुल मरीजों की संख्या पाॅजिटिव 12 हो चुकी है। इसके साथ ही राज्‍य में अब तक कुल 246 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए जा चुके हैं। इनमें 100 लोग ठीक होकर घर लौट चुके हैं। इससे पहले शनिवार को इसके अलावा राज्‍य में कोराेना के 19 नए मरीजों की पुष्टि हुई थी। ।

14 और मरीज ठीक होकर घरों को लौटे, 140 लोग अभी अस्पतालों में

शनिवार को फरीदाबाद में सात, पलवल में चार, सोनीपत में तीन, पंचकूला में दो और अंबाला, नूंह और कैथल में एक-एक नए मरीज सामने आए थे। पलवल में छह, नूंह में चार, फरीदाबाद में तीन और अंबाला में एक मरीज को ठीक होने पर अस्पतालों से छुट्टी मिल गई। प्रदेश के छह जिलों में कोरोना अब बिल्कुल खत्म हो चुका है। इनमें भिवानी, चरखी दादरी, रोहतक, सिरसा और यमुनानगर शामिल हैं। रेवाड़ी, महेंद्रगढ़ और झज्जर पहले ही कोरोना से मुक्त हैं।

13 जिलों में सिमटा कोरोना, छह जिले संकट से निकले बाहर, तीन पहले से कोरोना मुक्त

मौजूदा स्थिति की बात करें तो नूंह में 49, फरीदाबाद और पलवल में 17-17 और पंचकूला में 15 मरीज हैं। इसके अलावा सोनीपत में छह, अंबाला में चार, कुरुक्षेत्र और कैथल में दो-दो तथा हिसार, जींद करनाल और पानीपत में एक-एक मरीज उपचाराधीन हैं।

पूरे प्रदेश में फिलहाल 14 हजार 52 लोगों को निगरानी में रखा गया है। कुल दस हजार 454 लोगों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे, जिनमें आठ हजार 93 की रिपोर्ट निगेटिव आई है। इसके अलावा दो हजार 143 लोगों के सैंपल का इंतजार किया जा रहा है। अभी तक कुल 29 हजार 190 लोग सर्विलांस पर लिए गए, जिनमें से 15 हजार 138 लोग निगरानी अवधि पूरी कर चुके।

हरियाणा में 45.45 फीसदी मरीज हुए ठी

प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज का कहना है कि हरियाणा, देश का पहला ऐसा राज्य है, जहां कोरोना पॉजिटिव मरीजों के ठीक होने की दर सबसे अधिक है। 45.45 फीसदी मरीज किसी भी प्रदेश में ठीक नहीं हुए हैं। विज ने कहा, इटालियन नागरिकों का उपचार जरूर गुरुग्राम के प्राइवेट अस्पताल में हुआ। इनके अलावा बाकी अधिकतर मरीजो का उपचार सरकारी अस्पतालों में ही हुआ है। विज ने कहा, अभी तक केवल एक ही मरीज ऐसा था, जिसे ऑक्सीजन की जरूरत पड़ी। प्रदेश में किसी भी मरीज को अभी तक आईसीयू में भर्ती करने की जरूरत नहीं पड़ी।

यह भी पढ़ें: हरियाणा में औद्योगिक गतिविधियां चालू करने का खाका तैयार, जानें किन क्षेत्रों में खुलेंगी फैक्‍टरियां

यह भी पढ़ें: Coronavirus से लुधियाना के एसीपी कोहली शहीद, प्लाज्‍मा थैरेपी की थी तैयारी, पत्‍नी भी पॉजिटिव

 

यह भी पढ़ें: कोरोना पर केंद्र की सूची: Red zone में हरियाणा के 6 जिले, 4 बड़े प्रकोप वाली श्रेणी में, देखें लिस्‍ट

 

यह भी पढें: रेलवे ने रचा इतिहास, 88 डिब्बों की अन्नपूर्णा ट्रेन ने 50 घंटे से कम में तय किया 1634 किमी

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस