जागरण संवाददाता, कैथल : सरकार की अप्रेंटिसशिप योजना के तहत विभागों में आइटीआइ पास युवाओं को अप्रेंटिस पर रखा जाना हैं। सिचाई विभाग में अप्रेंटिस पर रखने के लिए वीरवार को साक्षात्कार लिए गए। कुल 18 पदों पर 315 युवा-युवतियां साक्षात्कार देने के लिए पहुंचे। सुबह नौ बजे से ही युवाओं की भीड़ कार्यालय में दिखाई दिए। दस बजे साक्षात्कार शुरू हुए, लेकिन युवा डेढ़ से दो घंटे पहले ही साक्षात्कार देने के लिए पहुंच गए। इस योजना के तहत आइटीआइ पास युवाओं को अप्रेंटिस पर एक साल के लिए रखे जाने हैं। एक साल का डिप्लोमा जिन युवाओं के पास हैं, उन्हें सात हजार 700 रुपये व जिसके पास दो साल का है उन्हें आठ हजार 50 रुपये का मानदेय भी दिया जाएगा। समय सुबह नौ बजे से शाम पांच बजे तक रहेगा। सिचाई विभाग पूंडरी ब्रांच के कार्यकारी अभियंता बलराज चौहान व उनकी टीम ने साक्षात्कार लिए।

दूसरे जिले ही नहीं बल्कि कई प्रदेशों के युवाओं ने भी किया हुआ था आवेदन

विभाग से मिली जानकारी अनुसार चार-पांच माह पहले अप्रेंटिस पर युवाओं को रखने के लिए आवेदन मांगे गए थे। कोरोना महामारी के चलते साक्षात्कार नहीं लिए थे। वीरवार को युवाओं को साक्षात्कार के लिए बुलाया। 18 पदों पर 325 युवाओं ने आवेदन किया हुआ था, हालांकि 50 के करीब आवेदन कर्ता युवा साक्षात्कार देने के लिए नहीं पहुंचे। जिन युवाओं ने साक्षात्कार दिया उनमें कैथल जिले के साथ-साथ आसपास के कई जिलों से प्रशिक्षु पहुंचे हुए थे। विभाग के एक कर्मचारी ने बताया कि आवेदन तो चेन्नई, उत्तर प्रदेश, पंजाब सहित कई राज्यों से युवाओं ने पोर्टल पर किया हुआ था, लेकिन हरियाणा प्रदेश से बाहर के आवेदन कर्ता होने के कारण आवेदन को स्वीकार नहीं किया। हरियाणा के स्थाई निवासी युवाओं का आवेदन स्वीकार किया।

दो दिन पहले हुई बैठक में डीसी ने दिए थे आदेश

दो दिन पहले डीसी प्रदीप दहिया ने अप्रेंटिसशिप योजना की समीक्षा करते हुए विभागीय अधिकारियों की बैठक ली थी। इसमें आदेश जारी करते हुए कहा था कि अक्टूबर माह में आइटीआइ पास युवाओं को अप्रेंटिस पर रखें। इस योजना के तहत आइटीआइ से कोर्स करने वाले युवाओं को प्रशिक्षण पर रखा जा सकता है, जिससे विभागों में स्टाफ की कमी भी पूरी हो जाती है। ये प्रशिक्षु एक वर्ष के लिए रखे जाने हैं। इससे कार्यालय के कार्य में काफी सहयोग मिलता है। सभी अधिकारी अपने-अपने विभागों में कार्यरत सभी कर्मचारियों के तहत 10 फीसद प्रशिक्षु लगा सकते हैं।

Edited By: Jagran