जेएनएन, उकलाना [हिसार]। विदेश राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह ने कहा कि सीमा पर देश के सैनिक दुश्मन का मुकाबला करने में पूरी तरह से सक्षम हैं। ऐसे में देश की जनता को उनका साथ देते हुए हौसला बढ़ाना चाहिए। कश्मीर में सेना पर हुई एफआइआर पर कहा कि ऐसा होने पर जनता को उतेजित होने की जरूरत नहीं है। देश की जनता सेना के साथ खड़ी है।

वीके सिंह महर्षि दधिचि परमार्थ ट्रस्ट के तत्वावधान में यहां आयोजित कार्यक्रम में पहुंचे थे। 15 फरवरी को जींद में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की रैली का जाटों द्वारा जोरदार तरीके से विरोध करने पर उन्होंने कहा कि इस मामले को लेकर प्रदेश नेतृत्व बातचीत करेगा और मामले को सुलझा लिया जाएगा। विदेश राज्यमंत्री पूर्व सेनाध्यक्ष जनरल वीके सिंह ने कहा कि हमारे देश के युवा को कुछ हमारे अपने फर्जी एजेंट विदेशों में नौकरी, कोठी, बंगले का लालच दे देते हैं और युवा वर्ग भ्रमित होकर टूरिस्ट वीजा पर विदेशों में चला जाता है। जिसके बाद वह विदेश में फंस जाता है।

उन्होंने कहा कि देशवासियों को हमारे अपने लोग ही ठगते हैं। कुछ लालची लोग दूसरों को सब्जबाग दिखाकर उनसे पैसे ऐंठ लेते हैं और गलत तरीके से उन्हें दूसरे देशों में भिजवाते हैं जहां जाकर वे फंस जाते हैं और शोषण का शिकार होते हैं। हमें ऐसे लोगों से बचकर रहना चाहिए और अनधिकृत व्यक्तियों के झांसे में नहीं आना चाहिए। यदि कोई व्यक्ति ऐसे गलत कार्य करता है तो उसकी शिकायत पुलिस व विदेश मंत्रालय को भी दें, ताकि उनके खिलाफ कार्रवाई की जा सके। सिंह ने कहा कि वर्तमान केंद्र सरकार ने लगभग साढ़े तीन साल के कार्यकाल में विदेश में फंसे 90 हजार से ज्यादा देशवासियों को बचाया है। इससे पहले किसी सरकार द्वारा ऐसा नहीं किया गया।

उन्होंने युवाओं से आह्वान किया कि वे अपने कौशल को विकसित करें। देश में उनके लिए अपार अवसर हैं, वे इन मौकों का फायदा उठाएं। उन्होंने कहा कि यदि युवा वर्ग देश के हित की भावना मन में रखकर देश के लिए कार्य करें तो कोई देश भारत का मुकाबला नहीं कर सकता है। देश में न तो अच्छे युवाओं की कमी है और न ही काम की।

यह भी पढ़ेंः छेड़छाड़ से परेशान महिला ने उठाया खौफनाक कदम तो आरोपी ने दे दी जान

 

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस