Move to Jagran APP

Lok Sabha Election 2024: कांग्रेस दिग्गजों में चल रही वॉर, हुड्डा के भरोसे उम्मीदवार; इन सीटों पर ज्यादा फोकस

Lok Sabha Election 2024 आने वाली 25 तारीख को हरियाणा की दस सीटों पर चुनाव होने हैं। ऐसे में हरियाणा की नौ सीटों पर कांग्रेस ने उम्मीदवार उतारे हैं। इनमें आठ उम्मीदवार भूपेंद्र सिंह हुड्डा के भरोसे हैं। महज एक सी सिरसा पर हुड्डा अभी तक प्रचार प्रसार के लिए नहीं गए हैं। इस सीट से कुमारी सैलजा चुनाव लड़ रही हैं।

By Jagran News Edited By: Prince Sharma Published: Tue, 14 May 2024 12:08 PM (IST)Updated: Tue, 14 May 2024 12:08 PM (IST)
Lok Sabha Election 2024: कांग्रेस दिग्गजों में चल रहा वार, हुड्डा के भरोसे उम्मीदवार

अनुराग अग्रवाल, हिसार। Haryana Lok Sabha Election 2024: हरियाणा की आठ लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ रहे कांग्रेस उम्मीदवार पूर्व मुख्मयंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा (Bhupinder Singh Hooda) के चुनाव प्रचार के भरोसे हैं। राज्य की सिरसा लोकसभा सीट एकमात्र ऐसी सीट है, जहां हुड्डा अभी तक चुनाव प्रचार के लिए नहीं गए।

पूर्व केंद्रीय मंत्री कुमारी सैलजा (Kumari Sailja) ने हुड्डा को सिरसा बुलाने की जरूरत भी नहीं समझी। एसआरके गुट में शामिल कांग्रेस महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला और किरण चौधरी के साथ अब पूर्व केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र सिंह सिरसा में कुमारी सैलजा का चुनाव प्रचार कर रहे हैं।

सिरसा से सैलजा चूंकि सांसद रह चुकी हैं, इसलिए वह इस संसदीय क्षेत्र के चप्पे-चप्पे से वाकिफ हैं। इसलिए अपने चुनाव प्रचार में उन्होंने पूरी ताकत झोंकी हुई है। कुरुक्षेत्र सीट आइएनडीआइए गठबंधन के खाते में गई है, जहां से आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सुशील गुप्ता चुनाव लड़ रहे हैं।

यह भी पढ़ें- Haryana News: 'जजपा का कोई भी विधायक', जींद में अजय चौटाला ने अपने एमएलए के लिए कह दी ये बात

उनके चुनाव प्रचार के लिए हुड्डा, सैलजा व रणदीप कुरुक्षेत्र में दस्तक दे चुके हैं, लेकिन पहली पंक्ति के इन नेताओं का मुख्य फोकस अपनी-अपनी रुचि और प्रभाव वाले लोकसभा क्षेत्रों के उम्मीदवारों के प्रचार पर है। पढ़िए राज्य ब्यूरो प्रमुख अनुराग अग्रवाल की रिपोर्ट...

दिनभर कहीं भी रहें रात को रोहतक में ही रहने की होती है हुड्डा की कोशिश

रोहतक से कांग्रेस उम्मीदवार के रूप में राज्यसभा सदस्य दीपेंद्र सिंह हुड्डा चुनाव लड़ रहे हैं। दीपेंद्र हुड्डा चौथी बार सांसद बनने के इराधे से चुनावी रण में हैं। वह स्वयं तो चुनाव प्रचार कर ही रहे हैं, लेकिन उनके पिता पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने भी रोहतक में डेरा डाला हुआ है।

साल 2019 के लोकसभा चुनाव में हुड्डा स्वयं सोनीपत से चुनाव लड़े थे, जिस कारण वह अपने बेटे दीपेंद्र के चुनाव पर ध्यान नहीं दे पाए थे और दीपेंद्र अपने पिता के चुनाव पर सोनीपत में ध्यान नहीं दे सके थे।

नतीजतन दोनों चुनाव हार गए थे। इस बार हुड्डा परिवार से सिर्फ दीपेंद्र रोहतक से चुनाव लड़ रहे हैं। हुड्डा पूरे प्रदेश में दिनभर कहीं भी रहें, लेकिन उनकी कोशिश रात को रोहतक में ही रहने की होती है, ताकि लोगों से संवाद का सिलसिला बढ़ाया जा सके।

पुराने मित्र सतपाल ब्रह्मचारी के चुनाव को भी गति देने में लगे हैं हुड्डा हुड्डा का मुख्य फोकस अपने पुराने मित्र हरिद्वार के पूर्व मेयर सतपाल ब्रह्मचारी के चुनाव प्रचार को भी गति देने पर है। सतपाल ब्रह्मचारी सोनीपत लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं।

दीपेंद्र हुड्डा को ऐसे मिलेगा वोटों का लाभ

सोनीपत से हुड्डा ने सतपाल ब्रह्मचारी को इसलिए टिकट दिलाया, ताकि रोहतक में ब्राह्मणों के वोट उन्हें प्राप्त हो सकें। हिसार में पूर्व केंद्रीय मंत्री जय प्रकाश जेपी के लिए भी हुड्डा प्रचार कर रहे हैं। जेपी सहारण हैं। हुड्डा को उम्मीद है कि जेपी को हिसार से चुनाव लड़वाने पर रोहतक में सहारण वोटों का लाभ दीपेंद्र हुड्डा को मिल सकता है।

राव दान सिंह को भिवानी लोकसभा सीट से टिकट दिलाने का लाभ हुड्डा रोहतक में लेना चाहते हैं इसी तरह, भिवानी-महेंद्रगढ़ में किरण चौधरी की पूर्व सांसद बेटी श्रुति चौधरी का टिकट कटवाकर हुड्डा ने अपने मित्र महेंद्रगढ़ के विधायक राव दान सिंह को चुनाव मैदान में उतारा है।

राव दान सिंह अहीर हैं और रोहतक की कोसली विधानसभा सीट अहीर बाहुल्य है, जहां से पिछला लोकसभा चुनाव दीपेंद्र करीब 75 हजार मतों से हारे थे।

राव दान सिंह को भिवानी में टिकट दिलाने का लाभ हुड्डा रोहतक में अपने बेटे के लिए लेना चाहते हैं। वहीं एसआरके गुट और बीरेंद्र सिंह ने सिरसा तक ही अपनी राजनीतिक गतिविधियों को समेट रखा हैे।

खरगे, राहुल और प्रियंका 15 के बाद आएंगे हरियाणा

हरियाणा में अभी तक कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे, राहुल और प्रियंका गांधी के दौरे तय नहीं हो पाए हैं। बताया जाता है कि तीनों नेता 15 मई के बाद ही हरियाणा के दौरे पर आएंगे। रोहतक में प्रियंका गांधी का रोड शो कराने की योजना है तो अंबाला में खरगे की रैली संभव है।

दक्षिण व मध्य हरियाणा में राहुल गांधी की दो रैलियां और जीटी रोड बेल्ट पर रोड शो कराने की दिशा में भी नेता प्रयासरत हैं। जब तक यह नेता नहीं आते, तब तक हुड्डा से ही उम्मीदवारों को आस बंधी हुई है।

यह भी पढ़ें- Haryana News: हरियाणा में बीजेपी को लगा तगड़ा झटका, पूर्व विधायक रोहिता रेवड़ी कांग्रेस में हुई शामिल


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.