अहमदाबाद, एजेंसी। गुजरात विश्‍वविद्यालय (Gujarat University) के हास्‍टल इलाके में बाहर से कुछ लोगों ने घुसकर छात्रों की जमकर पिटाई कर दी। इसे लेकर विद्यार्थियों ने मंगलवार को प्रदर्शन किया। इस दौरान विद्यार्थियों का कहना रहा कि सोमवार देर रात को अराजक तत्‍वों का एक समूह यूनिवर्सिटी के हास्‍टल कैम्‍पस में घुस आया और स्‍टूडेंट्स के वाहनों को नुकसान पहुंचाया।

इस घटना को लेकर यहां के विद्यार्थियों में आक्रोश है। जब ये बदमाश अंदर शोरगुल मचा रहे थे, गाड़ियों को नुकसान पहुंचा रहे थे, तब स्‍टूडेंट्स ने इन्‍हें रोकने का प्रयास किया, तभी डंडे और बेल्‍ट से उनकी पिटाई कर दी गई। इसे लेकर विद्यार्थियों में इतना गुस्‍सा है कि इन्‍होंने मिलकर यूनिवर्सिटी पुलिस स्‍टेशन के सामने विरोध प्रदर्शन किया और आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

Sharukh Khan: वडोदरा रेलवे स्टेशन पर भगदड़ मामले में अभिनेता शाहरुख को सुप्रीम कोर्ट से राहत

स्‍टूडेंट्स की मांग पुलिस करें गुंडों की पहचान 

यहां के पुलिस अधिकारी ने कहा है कि छात्रों ने यह आरोप लगाते हुए यह आवेदन दाखिल कराया है कि बदमाशों ने न केवल उनकी बाइक या साइकिल को नुकसान पहुंचाया, बल्कि उनके साथ भी हाथापाई की। अफसर ने कहा, आधिकारिक तौर पर किसी के खिलाफ शिकायत दर्ज नहीं कराई गई है। राष्‍ट्रीय छात्र संघ (National Student Union Of India) के नेता भाविक सोलंकी का कहना है कि पुलिस ने शिकायत दर्ज करने के बजाय उन्‍हें एप्‍लीकेशन लिखने को कहा। 

छात्र संघ ने विरोध में रैली निकालने का किया फैसला

संघ ने निर्णय लिया है कि उनके द्वारा गुजरात यूनि‍वर्सिटी कैंपस (Gujarat University Campus) से लेकर पुलिस स्‍टेशन तक मार्च निकाला जाएगा। उनकी मांग अज्ञात गुंडो की पहचान कर उनके खिलाफ शिकायत दर्ज करने की है। भाविक कहते हैं कि छात्रों को पता ही नहीं है कि ये बदमाश कौन थे या हमले के पीछे इनका क्‍या मकसद रहा है। 

पटना में भी हो चुकी है ऐसी घटना

मालूम हो कि इसी महीने पटना सिटी के सुल्तानगंज थाना क्षेत्र के राजकीय अंबेडकर हॉस्टल (Government Ambedkar Hostel) में हमला बोला गया था। इस दौरान स्थानीय युवकों और हास्टल के छात्रों के बीच जमकर मारपीट हुई थी।

इतना ही नहीं, इस घटना में बदमाशों ने हवा में फायरिंग भी की थी। गोली का छर्रा लगने से दो छात्र घायल भी हुए थे जिन्‍हें अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था।

हालांकि, इस दौरान हमले की वजह कुछ और रही थी। इस घटना में छात्रों ने स्थानीय निवासी अनिल यादव के बेटे और उनके भतीजे की पहले पिटाई की थी, इसके बाद उन पर हमला बोला गया था।

राजस्थान कांग्रेस की खींचतान का गुजरात में भी पड़ेगा असर, भाजपा और आप से पिछड़ सकती है पार्टी

Edited By: Arijita Sen

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट