Move to Jagran APP

गुजरात में 1400 करोड़ रुपए के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट सट्टा का पर्दाफाश, लुकआउट नोटिस जारी करने की तैयारी

अहमदाबाद अपराध शाखा ने राजकोट में 1400 करोड़ रुपये के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट सट्टेबाजी का पर्दाफाश किया है। बुकी राकेश राजदेव व टामी ऊंझा ने नकली दस्तावेजों के आधार पर 11 बैंकों में खाते खोलकर इनमें जमा सैकड़ों करोड़ रुपये हवाला के जरिये दुबई पहुंचाए हैं।

By Jagran NewsEdited By: Devshanker ChovdharyPublished: Sat, 04 Feb 2023 11:53 PM (IST)Updated: Sat, 04 Feb 2023 11:53 PM (IST)
गुजरात में 1400 करोड़ रुपए के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट सट्टा का पर्दाफाश।

राज्य ब्यूरो, अहमदाबाद। अहमदाबाद अपराध शाखा ने राजकोट में 1400 करोड़ रुपये के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट सट्टेबाजी का पर्दाफाश किया है। बुकी राकेश राजदेव व टामी ऊंझा ने नकली दस्तावेजों के आधार पर 11 बैंकों में खाते खोलकर इनमें जमा सैकड़ों करोड़ रुपये हवाला के जरिये दुबई पहुंचाए हैं। दोनों बुकी के विदेश में होने की जानकारी मिली है।

पुलिस उपाधीक्षक चैतन्य मांडलिक ने बताया कि बुकी राकेश राजदेव और टामी ऊंझा द्वारा एक ही सीजन में सैकड़ों करोड़ रुपये के लेन-देन की जानकारी मिली है। मोबाइल एप के जरिये क्रिकेट प्रशंसकों व सटोरियों को देश-विदेश में सट्टा खिलाकर करोड़ों रुपये जमा किये गए। सट्टे में हार और जीत होने पर इनके खातों में पैसे जमा होते थे। पैसा न देने वालों से वसूली के लिए इन्होंने रिकवरी एजेंट भी रखे थे।

अहमदाबाद अपराध शाखा ने इन दोनों अंतरराष्ट्रीय बुकी के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी कराने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। मनी लांड्रिंग के तहत भी इस मामले की जांच कराई जाएगी। पुलिस ने बताया कि सटोरियों ने नकली दस्तावेजों के आधार पर 11 बैंक खाते खोले, जिनमें अप्रैल 2022 से जुलाई 2022 के बीच सैकड़ों करोड़ रुपये की लेन-देन हुई।

पुलिस ने बताया कि इन खातों में जमा राशि को हवाला के जरिये दुबई के बैंक खाते में पहुंचाये गये। दोनों बुकी ने राजकोट के इंडसइंड बैंक, पीएनबी, एचडीएफसी, आइडीएफसी जैसे बैकों में अलग नाम व फर्म के बैंक खाते खोले थे।

यह भी पढ़ें: बजट में घोषित एग्री स्टार्टअप फंड के बाद जानिए कहां हैं संभावनाएं, सफलता के लिए किन बातों का रखना पड़ेगा ध्यान

यह भी पढ़ें: Fact Check: आंध्र के नेल्लोर में हिंदू धार्मिक यात्रा में बाधा पहुंचाने की पुरानी घटना के वीडियो को महाराष्ट्र का बताकर किया जा रहा वायरल


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.