नई दिल्ली, जेएनएन। पाकिस्तान के सुपरस्टार और जवां दिलों की धड़कन फवाद खान ने अपनी आने वाली फिल्म द लीजेंड ऑफ मौला जट्ट के लिए अपनी जान जोखिम में डाल दी थी। खान ने माना कि उन्होंने ट्रांसफॉर्मेशन के लिए कुछ ऐसा किया जिसे उनकी हेल्थ पर काफी खराब असर पड़ा।

मुश्किल में फवाद खान

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार फवाद का वजन 73-75 किलो था और उन्होंने इस किरदार के लिए 100 किलो तक बढ़ाने की कोशिश कर रहे थे। अचानक 20 से 25 किलो वजन बढ़ाने से फवाद की हालत इतनी खराब हो गई कि उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा।

आमिर खान को किया कॉपी

समथिंग हाउते से बात करते हुए फवाद ने कहा कि ऐसा बॉडी ट्रांसफॉर्मेशन उनके लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं रहा। वो फिर कभी ये ट्राई नहीं करेंगे। उन्होंने अपने फैंस को भी चेताया कि 'आप भी अगर इस तरह के किसी बॉडी ट्रांसफॉर्मेशन के बारे में सोच रहे हैं तो पहले इसके नुकसान के बारे में जान लीजिए। मैं तो 10 दिनों में ही हॉस्पिटल पहुंच गया था, मेरी किडनी तक पर असर पड़ा'।

फवाद खान का छलका दर्द

फवाद ने आगे खुलासा किया कि शरीर में किसी भी तरह के बदलाव के लिए 6 महीने लगते हैं। पर मैंने कोशिश की कि मुझे 1 महीने में ही रिजल्ट मिल जाए। मैंने आमिर खान को कॉपी करने की कोशिश की लेकिन हॉस्पिटल पहुंच गया। क्योंकि मेरे पास 6 महीने का समय नहीं था मुझे जो करना था जल्दी करना था। बता दें साल 2016 की फिल्म दंगल के लिए आमिर खान ने पहले अपना वजन बढ़ाया था और फिर बाकी की फिल्म कम वजन के साथ शूट की थी।  

13 अक्टूबर को रिलीज होगी फिल्म

फवाद खान ने कहा कि वो किसी भी एक्टर को इस तरह का काम करने के लिए नहीं कहेंगे। उन्होंने कहा कि- अगर मेरे पास 6 महीने होते, तो वो शायद मौला जट्ट बहुत अलग दिखते। द लीजेंड ऑफ मौला जट्ट में फवाद के साथ माहिरा खान भी नजर आने वाली हैं और यह फिल्म 13 अक्टूबर, 2022 को सिनेमाघरों में रिलीज होगी।

यह भी पढ़ें

Chup Collection Day 1: सनी देओल की 'चुप' ने लगाई दहाड़, पहले दिन की कमाई सुन आप रह जाएंगे शॉक्ड

Edited By: Ruchi Vajpayee

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट