अनुप्रिया वर्मा, मुंबई। पदमावती को लेकर हो रहे विवादों के चलते एक और नयी ख़बर आ रही है कि पार्लियामेंट्री कमेटी ने तय किया है कि वह इस फिल्म के निर्देशक संजय लीला भंसाली को और सीबीएफसी प्रमुख प्रसून जोशी को आमने-सामने बैठ कर बात करने का मौका देना चाहते हैं।

और यही वजह है कि उन्होंने 30 नवंबर यानि गुरुवार को दोनों को न्योता दिया है कि वे आकर बात करें, ताकि दोनों की ही बात पूरी तरह से सुनी जा सके। 30 मेंबर्स वाली इस कमेटी ने फिल्म के निर्माताओं को भी इस बातचीत के लिए शामिल होने को कहा है। साथ ही उन्होंने इंफॉरमेशन ब्राडकास्टिंग मिनिस्ट्री से भी कहा है कि वह उनके आॅफिशियल्स को भी इस बैठक में शामिल करें। पैनल ने तय किया है कि वह भंसाली और प्रसून दोनों से ही फिल्म से जुड़ी सारी बातों पर मशवरा करें और विचार सुनें। दोनों ही अपनी-अपनी बात सामने रख सकते हैं। यह जानकारी पैनल के चेयरमैन अनुराग ठाकुर ने दी है। कमेटी की यह बैठक 30 नवंबर को होगी। ख़बर है कि परेश रावल, राज बब्बर भी इस पैनल के मेबर्स हैं और वे दोनों ही इसमें शामिल रहेंगे। 

यह भी पढ़ें: Photos: वत्सल-इशिता की शादी में सपरिवार शामिल हुए अजय देवगन, दोनों से है ये ख़ास रिश्ता

ख़बर यह भी है कि, पार्लियामेंट्री सोर्सेज के अनुसार संजय पैनल में शामिल होने से हिचक रहे हैं। लेकिन उनके शामिल होने की पूरी गुंजाईश है। आपको बता दें कि, फिल्म पद्मावती पहले 1 दिसंबर को रिलीज़ होने वाली थी। लेकिन लगातार विवाद बढ़ता देख मेकर्स ने फिल्म की रिलीज़ को अनिश्चितकाल तक के लिए टाल दिया है।

Posted By: Rahul soni

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस