मुंबई। महिलाओं के साथ हुए यौन शोषण से जुड़े मामलों की आवाज़ दिन ब दिन मुखर होती जा रही है। कुछ सेलेब्स आपबीती बता रही हैं तो कुछ ऐसे घृणित कार्य करने वालों के ख़िलाफ़ कड़ी कार्रवाई करने के साथ उनके समर्थन में आगे आई हैं।

बच्चन बहू ऐश्वर्या राय बच्चन भी इस मामले में बोलने से पीछे नहीं हटी हैं। मुंबई में एक बातचीत में ऐश ने कहा कि ये जानकर अच्छा लग रहा है कि मीडिया सजग है और इस समय महिलाओं की आवाज़ को सही प्लेटफॉर्म दे रहे है। अब कानून को अपना काम करना है। ऐश्वर्या राय बच्चन ने कहा कि इस मुद्दे पर वो हमेशा बोलती आई हैं। पहले ही बोला है। आज भी बोल रही हैं और हमेशा बोलती रहेंगी। ऐश ने कहा कि यौन प्रताड़ना बॉलीवुड के लिए कोई नया शब्द नहीं है लेकिन अब बड़े पैमाने पर इसकी गंभीरता को समझा जा रहा है। कानून के प्रति जागरूकता और सोशल मीडिया की सजगता के चलते ये संभव हुआ है।

ऐश ने कहा कि एक महिला को इस बात के प्रति आश्वस्त किया जाना चाहिए कि प्रताड़ना के ख़िलाफ़ वो जो सार्वजानिक रूप से कहने वाली है उससे उनके नाम और सम्मान को सुरक्षा मिलेगी। वैसे इस समय मी टू को जो समर्थन मिल रहा है वो अभूतपूर्व है। याद हो कि हरासमेंट के एक मामले की ऐश्वर्या राय भी शिकार हो चुकी हैं जब साल 2002 में उन्होंने सलमान खान के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाई थी। ऐश और सलमान के बीच अफेयर था और बाद में दोनों अलग हो गए। उस दौरान ऐश्वर्या ने एक प्रेस स्टेटमेंट जारी किया था जिसमें सलमान पर आरोप था कि उन्होंने ऐश को फिजिकली और मेंटली एब्यूज किया। उन्होंने तब सलमान खान के साथ किसी भी फिल्म में काम करने से मना कर दिया था। हालांकि सलमान खान ने उनके ऊपर लगाए गए सभी तरह के आरोपों को सिरे से खारिज़ कर दिया। साल 2007 में जब ऐश ने अभिषेक बच्चन से शादी कर ली उसके बाद ये मामला ख़त्म माना गया।

फिलहाल मी टू अभियान जोरों पर है। शुरुआत तनुश्री दत्ता से हुई जिन्होंने दस साल एक फिल्म के सेट पर नाना पाटेकर की तरह से उनके साथ की गई छेड़खानी का मुद्दा उठाया। मामला अब पुलिस में है और महिला आयोग ने दस दिन में नाना को अपना जवाब देने को कहा है।

यह भी पढ़ें: Me Too: मामी फिल्म फेस्टिवल से हटे अनुराग कश्यप

Posted By: Manoj Khadilkar