नई दिल्ली (जेएनएन)। न्यूयॉर्क टाइम्स ने स्वर कोकिला लता मंगेशकर को 'तथाकथित प्लेबैक सिंगर' कहा था। इसके बाद समाचार पत्र की कई लोगों ने आलोचना की थी। मामले को शांत करने के लिए आखिरकार न्यूयॉर्क टाइम्स को सफाई देनी पड़ी है।

न्यूयॉर्क टाइम्स का कहना है कि उनका मतलब लता मंगेशकर पर टीका टिप्पणी या अपमान करना नहीं था। यह उन गैर-भारतीय लोगों के लिए था जो 'प्लेबैक सिंगर' शब्द से परिचित नहीं हैं। हमारा मकसद किसी शख्स को दुखी करना नहीं था।


काजोल और करण जौहर की दोस्ती टूटी, वजह बने अजय देवगन!

दरसअल, एक सप्ताह पहले फेसबुक पर डाले गये ‘सचिन वर्सेस लता सिविल वार’ शीषर्क वाले वीडियो में 86 साल की गायिका और 43 वर्षीय क्रिकेटर का मजाक उड़ाया गया। फिल्म इंडस्ट्री के साथ-साथ आम लोगों ने भी इस पर तन्मय भट्ट की काफी निंदा की। लेकिन लता मंगेशकर ने इस बारे में कुछ भी बोलने से मना कर दिया।

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, लता मंगेशकर और सचिन के विवादित वीडियो पर न्यूयॉर्क टाइम्स ने लिखा है कि तथाकथित गायक, जिनका करियर 1940 में शुरू हुआ था! न्यूयॉर्क टाइम्स की इस रिपोर्ट से लोग काफी भड़क गए थे, लेकिन अब अखबार की सफाई सामने आ गई है।

सनी लियोन ने दिए मैरिड लाइफ के लिए ऐसे टिप्स, रंगीन हो जाएगी जिंदगी

Posted By: Tilak Raj

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस