मुंबई। अभिनय के हर सांचे में ख़ुद को ढाल कर अपने किरदार में जान डाल देने वाली अभिनेत्री शबाना आज़मी का जन्मदिन 18 सितंबर को होता है। इस साल अपना 69 वां जन्मदिन मना रही शबाना आज भी सुर्ख़ियों में रहती हैं और हर विषय पर खुल कर बात करने के लिए जानी जाती हैं।

शबाना आज़मी मशहूर शायर और गीतकार कैफ़ी आज़मी की बेटी हैं। ज़ाहिर है एक आज़ाद माहौल में उनकी परवरिश का नतीजा ही है कि वो हमेशा से एक कॉन्फिडेंट पर्सनालिटी रही हैं। जावेद अख़्तर और शबाना आज़मी की लव स्टोरी भी बहुत ख़ास है। दरअसल, शबाना आज़मी के अब्बा यानी कैफ़ी साहब से मिलने के लिए अक्सर जावेद अख़्तर उनके घर जाते रहते थे। इसी दौरान शबाना और जावेद एक दूसरे के करीब आये और दोनों एक दूसरे को इतना पसंद करने लगे कि दोनों ने शादी करने का मन बना लिया। लेकिन, जावेद पहले से ही शादीशुदा थे।

यह भी पढ़ें: काजोल का ये ग्लैमरस अवतार देखकर आई ‘सिमरन’ और ‘अंजली’ की याद, देखें तस्वीरें

इस बीच जावेद और हनी में अनबन रहने लगी और अंततः दोनों अलग हो गए। जावेद और शबाना ने साल 1984 में शादी कर ली। बता दें कि शबाना जावेद की दूसरी पत्नी हैं। जावेद ने साल 1972 में हनी ईरानी से शादी की थी। यह रिश्ता बहुत दिनों तक नहीं चल सका। जब जावेद और हनी की शादी हुई थी तब हनी सिर्फ सत्रह साल की थीं।

हजारों रोमांटिक गाने लिखने वाला यह गीतकार निजी जीवन में कितना रोमांटिक है, जागरण डॉट कॉम के इस सवाल पर शबाना कहती हैं कि- 'मुझसे कई लोग कहते हैं कि आपके सौहर कितने रोमांटिक गाने लिखते हैं तो बहुत रोमांटिक होंगे! पर, ऐसा नहीं है। जावेद साहब भी यही जवाब देते हैं उन्हें कि अगर कोई सर्कस में काम करता है तो क्या वह घर पर भी उल्टा लटकता रहेगा..नहीं न?' आगे शबाना कहती हैं कि- 'जावेद की एक बात जो मुझे बहुत अच्छी लगती है वो ये कि जावेद मेरे बहुत अच्छे दोस्त हैं। जावेद साहब का भी यही मानना है कि शबाना मेरी इतनी अच्छी दोस्त है कि हमारी शादी भी हमारी दोस्ती का कुछ नहीं बिगाड़ सकी।'

शबाना कहती हैं “कई लोगों को ऐसा लगता ज़रूर है कि जावेद बहुत ही केयरलेस इंसान हैं पर ऐसा नहीं है। जब भी कोई मेरे बारे में कुछ निगेटिव बोलता है तब जावेद को देख लें आप? वो इतने प्रोटेक्टिव हो जाते हैं कि मजाल है कि कोई उनकी बीवी के बारे में कुछ कह दे। वो हमेशा मुझे एक सेन्स ऑफ़ सिक्यूरिटी देते हैं कि मैं निश्चिंत रह सकूं। जावेद बहुत ज्यादा मेरे अब्बा की तरह हैं। चाहे पृष्ठभूमि की बात की जाए या शायरी हो या फिर पॉलिटिक्स ले लीजिये या सामजिक मुद्दों पर जो उनकी सोच है, हर मोर्चे पर कैफ़ी आज़मी साहब की झलक उनमें मुझे मिलती है।’’

यह भी पढ़ें: बेटी आराध्या और मॉम के साथ गणपति दर्शन को पहुंची ऐश्वर्या राय बच्चन, देखें तस्वीरें

जागरण डॉट कॉम के तमाम पाठकों की तरफ़ से 'अंकुर', 'अमर अकबर एंथोनी', 'निशांत', 'शतरंज के खिलाड़ी', 'हीरा और पत्थर', 'परवरिश', 'किसा कुर्सी का', 'कर्म', 'आधा दिन आधी रात', 'स्वामी', 'देवता', 'स्वर्ग-नरक', 'स्पर्श', 'अमरदीप','बगुला-भगत', 'अर्थ', 'एक ही भूल', 'मासूम', 'नीरजा' जैसी कई यादगार फ़िल्मों में सशक्त किरदार निभाने वाली अभिनेत्री शबाना आज़मी को जन्मदिन मुबारक!

Edited By: Hirendra J

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट