लखनऊ [धर्मेन्द्र पाण्डेय]। लोकसभा चुनाव 2019 में आज अंतिम यानी सातवें चरण के मतदान के बाद अब सभी की निगाह 23 मई को आने वाले परिणाम पर लग गई हैं। सत्रहवीं लोकसभा में उत्तर प्रदेश एक नया आयाम भी स्थापित करेगा। उत्तर प्रदेश से इस बार पति-पत्नी भी एक साथ लोकसभा में पहुंचेंगे। गठबंधन प्रत्याशी के रूप में समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आजमगढ़ से ताल ठोंकी है तो उनकी सांसद पत्नी डिंपल यादव एक बार फिर कन्नौज से मैदान में हैं।

लोकसभा चुनाव 2019 यानी 17वीं लोकसभा का चुनाव अखिलेश यादव तथा डिंपल यादव की जोड़ी के लिए भी बेहद खास है। यह दोनों इससे पहले कभी भी एक साथ लोकसभा में नहीं पहुंचे। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव कन्नौज से लगातार तीन बार सांसद रहे हैं तो डिंपल यादव भी कन्नौज से तीसरी बार लोकसभा में जाने की तैयारी में हैं। इतने बड़े अंतराल के बाद भी यह दोनों एकसाथ कभी लोकसभा में नहीं पहुंचे। कन्नौज को छोड़कर अखिलेश यादव एक बार फिरोजबाद से भी सासंद रहे।

अखिलेश यादव समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष होने के बाद उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री भी हैं। अखिलेश यादव ने सक्रिय राजनीति में अपना सफर 2000 से शुरू किया था। 13वीं, 14वीं व 15वीं लोकसभा में अखिलेश यादव कन्नौज से संसद की दहलीज तक पहुंचे। इसके बाद उन्होंने क्षेत्र बदल दिया। अखिलेश यादव 2009 में फिरोजाबाद से चुनाव जीते। इसके बाद उन्होंने सीट छोड़ दी। यहां उप चुनाव में डिंपल यादव को उतारा गया। डिंपल यादव को पहले चुनाव में शिकस्त झेलनी पड़ी। कांग्रेस के राज बब्बर ने उनको हराया।

अखिलेश यादव 2012 में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने। उन्होंने कन्नौज सीट खाली कर दी। यहां से समाजवादी पार्टी ने उनकी पत्नी डिंपल यादव को मैदान में उतारा। डिंपल यादव ने उप चुनाव में जीत दर्ज की। इसके बाद 2014 में मोदी की लहर में भी उन्होंने जीत दर्ज की। उनके खिलाफ भाजपा से सुब्रत पाठक को उतारा था।

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव लोकसभा 2019 में आजमगढ़ से चुनावी मैदान में हैं। आजमगढ़ से 2014 में मुलायम सिंह यादव ने जीत दर्ज की थी। अखिलेश यादव की पत्नी डिपंल यादव भी कन्नौज से प्रत्याशी हैं। अगर दोनों चुनाव जीत जाते हैं तो इनको पहली बार एक साथ लोकसभा में जाने का मौका मिलेगा। डिंपल यादव तीसरी बार कन्नौज से चुनाव लड़ रही हैं। अखिलेश यादव तथा डिंपल यादव उत्तर प्रदेश की राजनीति में बेहद चर्चित जोड़ी है। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Dharmendra Pandey