सीतामढ़ी, जेएनएन। विधान सभा में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि देश में जुमलेबाज और बिहार में पलटीमार की सरकार है, जो गरीबों को ठगने का काम रही है। देश का संविधान और आरक्षण दोनों खतरे में है। ऐसे में देश में महागठबंधन की सरकार बनाने की जरूरत है। तेजस्वी गुरुवार को जिला मुख्यालय डुमरा के हवाई अड्डा मैदान में महागठबंधन समर्थित राजद प्रत्याशी डॉ. अर्जुन राय के नामांकन के बाद आयोजित जन सभा को संबोधित कर रहे थे।

 उन्होंने कहा कि नीरव मोदी, ललित, विजय माल्या और मेहुल चौकसी देश से रुपये लेकर भाग गया और नरेंद्र मोदी सरकार को पता तक नहीं चला। चौकीदार थे तो पुलवामा में आतंकी हमला कैसे हो गया। कहा कि मोदी जी अपने को चौकीदार कहते हैं। मोदी जी आप चौकीदार हो तो यहां की जनता थानेदार है। चोरी करने पर थानेदार छोडऩे वाला नहीं है। तेजस्वी यादव ने कहा कि जितने घोटालेबाज हैं, जो नोटबंदी की आड़ में देश से रुपये लेकर भागे हैं वे सभी नरेंद्र मोदी के बिरादरी के लोग हैं। चाहे वह नीरव मोदी हो, ललित मोदी हो अथवा विजय माल्या।

 उन्होंने कहा कि पहले नारा था हर-हर मोदी, अब जनता कह रही है-गड़बड़ मोदी। भाजपा और आरएसएस की सरकार साजिश रच कर मेरे पिता लालू प्रसाद यादव को जेल भेजने का काम किया। ताकि, वे देश को कमजोर कर सकें। संविधान के साथ छेड़छाड़ कर सकें और आरक्षण को खत्म कर सकें। लेकिन, लालू प्रसाद यादव इस गीदड़ भभकी से डरने वाले नहीं हैं। उन्होंने भाजपा को चुनौती देते हुए कहा कि मां का दूध पिया है तो फरिया लो। कहा कि मेरे पिता ने कभी मनुवादी और सांप्रदायिक ताकतों से समझौता नहीं किया।

 आज बीमारी के हालत में भी वे लड़ाई लड़ रहे हैं। स्थिति यह है कि एक बेटा को बीमार पिता से मिलने नहीं दिया जा रहा है। जेल अधीक्षक फोन नहीं उठा रहे हैं। लालू जी को मानसिक रूप से अस्पताल में टॉर्चर किया जा रहा है। हमारे पिता ने हमेशा कहा कि जब परेशानी हो तो जनता की अदालत में जाना। वहां तारीख नहीं गुजरता है। सीधी सुनवाई होती है। निर्णय अब आपको करना है।

 उन्होंने पीएम के वादों को याद दिलाया, पूछा गरीबों के बैंक खाते में 15 लाख आए, 2 लाख बेरोजगारों को रोजगार मिला, गंगा निर्मल हुई। कहा मोदी की सरकार ने केवल जनता को बरगलाया है। सूबे की सरकार पर निशाना साधा, कहा कि हमारे चाचा पलटीमार है। इंजीनियर रहे हैं, बालू बंदी कर गरीबों की मजदूरी मार ली। हम पर झूठा मुकदमा किया। लेकिन, सृजन घोटाला और मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड के दोषियों को यह सरकार बचाने में लगी है। कहा कि चुनाव को देश, संविधान और आरक्षण को बचाने के लिए लडऩा है। लालू को न्याय दिलाने के लिए मतदान करना है।

 चुनाव से यह तय होगा कि जिसकी जितनी हिस्सेदारी, उसकी उतनी भागीदारी। कहा कि बचपन में एक फिल्म देखी थी, चाची -420, अब देख रहे है चाचा-420। सीएम के डीएनए के लिए नाखून भेजने पर चर्चा की और पूछा कि क्या अब डीएनए मैच कर गया है। उन्होंने लोगों से भाजपा को भगाने और देश को बचाने तथा आरक्षण बढ़ाने के लिए गोलबंद करते हुए डॉ. अर्जुन राय को विजयी बनाने की अपील की। इसके पूर्व राजद नेता शरद यादव ने आम जनता से महागठबंधन के प्रत्याशी को विजयी बनाने की अपील की।

 वहीं रालोसपा अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने शिक्षा की गिरावट पर नीतीश कुमार की सरकार को आड़े हाथ लिया। सभा को प्रदेश राजद अध्यक्ष डॉ. रामचंद्र पूर्वे, प्रत्याशी डॉ. अर्जुन राय, विधान पार्षद दिलीप राय, विधायक एस अबू दोजाना, मंगीता देवी, सुनील कुशवाहा, रंजना पूर्वे, पूर्व मंत्री सूर्यदेव राय, पूर्व विधायक संजय गुप्ता, राजद जिलाध्यक्ष शफीक खान, कांग्रेस जिलाध्यक्ष विमल शुक्ला, रालोसपा जिलाध्यक्ष राम लक्षण ङ्क्षसह कुशवाहा, रेखा देवी, चंद्रजीत यादव, हरि ओम शरण नारायण, सुधीर कुंवर, गणेश गुप्ता, देवेंद्र सिन्हा, सन्नी श्रीवास्तव, प्रो. ललन राय, मनोज कुमार, परवेज आलम अंसारी, लक्ष्मण राय, अहिराज शैलेंद्र भूषण, संतोष सम्राट व रौशन यादव ने संबोधित किया। 

Posted By: Ajit Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप