मधुबनी [जेएनएन]। पूर्व केंद्रीय मंत्री और  कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डॉ. शकील अहमद ने बागी तेवर अख्तियार कर लिया है। उन्होंने पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता के पद से इस्तीफा दे दिया है। साथ ही मंगलवार को मधुबनी लोकसभा क्षेत्र से नामांकन की घोषणा करने के बाद आज उन्होंने निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में अपना नामांकन दाखिल किया। 

विदित हो कि लोकसभा चुनाव को लेकर महागठबंधन में हुई सीट शेयरिंग में मधुबनी सीट विकासशील इंसान पार्टी (वीआइपी) के खाते में गई है। यहां वीआइपी के बद्री पूर्वे महागठबंधन के अधिकृत प्रत्‍याशी हैं। लेकिन डॉ. शकील अहमद ने भी यहां से नामांकन करने की घोषणा की थी।

डॉ. शकील अहमद का तर्क है कि महागठबंधन के तहत सुपौल कांग्रेस के हिस्से में है, लेकिन वहां कांग्रेस प्रत्याशी रंजीत रंजन के विरुद्ध राष्‍ट्रीय जनता दल (राजद) के एक नेता ने निर्दलीय के रूप में नामांकन दाखिल कर दिया और राजद ने उसका समर्थन भी कर दिया है। इसी तरह उन्‍हें भी मधुबनी में कांग्रेस के समर्थन की उम्‍मीद है।

डॉ. शकील अहमद ने कहा कि उन्‍होंने क्षेत्र की जनता, कांग्रेसजनों और समाज के विभिन्न तबकों के दबाव पर चुनाव लडऩे का फैसला किया है। डॉ. शकील अहमद ने एक ट्वीट भी किया है। ट्वीट में उन्होंने लिखा है कि वे कल मधुबनी संसदीय सीट से अपना नामांकन दाखिल करेंगे। यह जानकारी भी दी है कि उन्होंने कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता पद से इस्तीफा कर दिया है।

Posted By: Amit Alok

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप