मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

भुवनेश्वर, जेएनएन। पांचों सीटों पर बीजद और भाजपा की लड़ाई को कांग्रेस व वामदल त्रिकोणीय बनाने की कोशिश में हैं। सुंदरगढ़ सीट की बात करें तो यहां भाजपा नेता व केंद्रीय मंत्री जुएल ओराम को बीजद के टिकट पर कांग्रेस नेता व पूर्व मुख्यमंत्री हेमानंद बिश्वाल की बेटी सुनीता तथा कांग्रेस के टिकट पर आदिवासी नेता व बीरमित्रपुर विधायक जार्ज तिर्की टक्कर दे रहे हैं।

बलांगीर में लड़ाई भाभी और देवर की है। भाजपा की संगीता कुमारी सिंहदेव बीजद के कलिकेश नारायण सिंह की भाभी लगती हैं। कलिकेश ने पिछली बार जीत हासिल की थी तो संगीता 1999, 2000 तथा 2004 में लोकसभा का चुनाव जीत चुकी हैं। 65 करोड़ की मालकिन संगीता राज्य की सबसे अमीर प्रत्याशियों में शामिल हैं। वह प्रदेश भाजपा के पूर्व अध्यक्ष कनकवर्धन सिंहदेव की धर्मपत्नी हैं। कांग्रेस ने समरेंद्र मिश्र को टिकट दिया है जो इंग्लैंड में एमबीएम कर भारत लौटे हैं और राजनीति में दांव आजमा रहे हैं। कंधमाल से बीजद ने अपने राज्यसभा सदस्य अच्युतानंद सामंत को मैदान में उतारा है। जबकि भाजपा ने बीजद के पूर्व नेता खारवेल स्वांई के भाजपा में शामिल होने के बाद उन्हें यहां से पार्टी ने प्रत्याशी बनाया है। कांग्रेस के टिकट पर मनोज आचार्य मैदान में हैं। मुकाबला कड़ा है।

 

Posted By: Babita

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप