रायपुर(जेएनएन)। देश में लोकसभा चुनाव का दौर है। चुनावी रैलियों में नेताओं संग लोगों की भीड़ उमड़ रही है। इस बार का लोकसभा चुनाव रैलियों से ज्यादा सोशल मीडिया में लड़ा जा रहा है। पीएम मोदी, राहुल गांधी समेत कई अन्य बड़े नेता लगातार सोशल मीडिया पर सक्रिय नजर आ रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बाद सोशल मीडिया पर भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ रमन सिंह की टैग पॉलिटिक्स छाई हुई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी और सपा के अध्यक्ष अखिलेश यादव को सोशल मीडिया में टैग करके सुर्खियां बटोरी थी।

अब डॉ रमन सिंह ने छत्तीसगढ़ सरकार में मंत्री टीएस सिंहदेव, ताम्रध्वज साहू, पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी और रेणू जोगी को टैग करके मतदान की अपील की है। मजे की बात यह है कि डॉ रमन ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को टैग नहीं किया, जबकि सीएम पद की दौड़ में शामिल रहे उनकी कैबिनेट के दो मंत्रियों को टैग किया है। डॉ. रमन ने लिखा-मतदान से देश की प्रगति और नेतृत्व का निर्णय तय होता है। यह लोकतंत्र की वास्तविक शक्ति है। इस वर्ष निर्धारित लोकसभा चुनाव में हमारा दायित्व है कि हम जन-जन को मतदान के महत्व से अवगत करवा कर भारी संख्या में मतदान करवाएं और लोकतंत्र को मजबूती प्रदान करें।

मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि लोकतंत्र के महापर्व में सभी को भागीदारी करनी चाहिए। देश में एक ऐसी सरकार चुननी चाहिए, जो आम जनता के हित में काम करे। लोगों के जीवन में उत्थान लाए। झूठे और लोकलुभावने वादों की जगह जनता के मुद्दों पर चुनाव लड़ने वाले दल के उम्मीदवार को चुनकर भारत को मजबूत बनाने की दिशा में आगे बढ़ना चाहिए।

वहीं, विधायक रेणु जोगी ने कहा कि वह सोशल मीडिया पर ज्यादा सक्रिय नहीं रहती हैं, लेकिन लोकतंत्र के पर्व में देशभर के वोटरों को ज्यादा से ज्यादा मतदान की अपील करती हूं। उन्होंने कहा कि मतदाता बिना डर, भय, मानसिक दबाव, बिना प्रलोभन के देश की सरकार को चुनें। देश में ऐसी सरकार के पक्ष में मतदान करें जो गैर सांप्रदायिक और धर्मनिरपेक्ष हो।

अलग-अलग वर्ग को टैग करते हुए डॉ रमन ने तीन पोस्ट की है। इसमें मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार रुचिर गर्ग, शशांक गुप्ता, तीजन बाई, सुरेंद्र दुबे को भी टैग किया है। डॉ. रमन सिंह के टैग करने के बाद रुचिर गर्ग ने पोस्ट किया, नौजवानों को तय करना है कि उन्हें कैसा भारत चाहिए। एकता और श्रद्धा के रंगों में रंगा भारत, नफरत की आंधी से बिखरने का खतरा झेल रहा है। इस बार का चुनाव आजादी के बाद का सबसे अहम चुनाव है। युवाओं को यह तय करना है कि उन्हें युवा सपनों को जिंदा रखते हुए सृजन करता, अनसंधान करता, नई कलाएं गढ़ते इतिहास बोध के साथ आगे बढ़ता भारत चाहिए या कुपमंडूकता में सिकुड़ता भारत चाहिए।

पोस्ट में डॉ. रमन सिंह ने लिखा कि लोकसभा चुनाव में सबसे खास हमारे युवा हैं। जिनका जन्म 21वीं सदी में हुआ, वे इस चुनाव में अपने मताधिकार का पहली बार प्रयोग करेंगे। हम सभी को यह प्रयास करना चाहिए कि देश के भविष्य यानी इस युवा पीढ़ी को निर्वाचन प्रणाली पर विश्वास बना रहे व मताधिकार के महत्व से वे अवगत हों। इसके साथ ही उन्होंने पोस्ट में लिखा  देश का भविष्य निर्धारण करने वाले चुनाव जनतंत्र का वास्तविक स्वरूप है। चुनाव, संविधान का वो अंग है, जो हमारे देश को दुनिया का सबसे बड़े लोकतंत्र होने का गौरव प्रदान करता है।  

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस