वाराणसी, जेएनएन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को काशी में मेगा रोड शो और गंगा आरती कर शक्ति प्रदर्शन किया। इसके बाद उन्होंने काशी की जनता को संबोधित करते हुए क्षेत्र में अपने 5 साल के काम का रिपोर्ट कार्ड पेश किया। पीएम ने अपने संबोधन में कहा कि बीते 5 वर्ष पुरुषार्थ के थे, आने वाले 5 वर्ष परिणाम के होंगे।

पीएम ने कहा कि पांच साल पहले जब काशी की धरती पर मैंने कदम रखा था, तब मैंने कहा था मां गंगा ने बुलाया है। काशी ने इतना प्यार दिया। लोग पूछते हैं कि मोदी ने काशी में क्या बदलाव किया, लेकिन मैं पूछना चाहता हूं कि काशी ने मुझमें क्या बदलाव किया।

य़ाद करिये संकट मोचन मंदिर, अयोध्या, अक्षरधाम मंदिरों में आतंकी हमले हुए। यहां आरती कर रहे भक्तों की कायरतापूर्ण हत्या याद कर मन पिघल जाती है। तत्कालीन सरकार वार्ता के अलावा कुछ नहीं की। पीएम मोदी ने कहा कि नया भारत आतंकवाद को कड़ा जवाब देता है। आतंकवाद अब जम्मू-कश्मीर के छोटे से हिस्से में सिकुड़ कर रह गया। आतंक की चुनौती को एक पल के लिए भी कम आंकना देश के लिए अन्याय है।

उन्होंने कहा कि जब मैं 17 मई 2014 को काशी आया था तो मन में सवाल था कि क्या काशी की उम्मीदों पर खरा उतर पाउंगा, लेकिन आज लग रहा है कि बाबा के आशीर्वाद से काशी के बदलाव को दुनिया महसूस कर रहा है। काशी ने मुझे सिर्फ एमपी नहीं पीएम बनने का आशीर्वाद दिया। मुझे 130 करोड़ भारतीयों के विश्वास की ताकत दी। समर्थ, सम्पन्न और सुखी भारत के लिए विकास के साथ-साथ सुरक्षा अहम है। मेरा यह मत रहा है कि परिवर्तन तभी सार्थक और स्थायी होता है, जब जन-मन बदलता है। इस जन-मन को साधने के लिए तपस्या करनी पड़ती है। मैं मानता हूं कि इस समय भारत भी तपस्या के दौर में है। वो खुद को साध रहा है और इस साधना में हम सब एक सेवक हैं, साधक हैं।

जब मैं बहुत पहले काशी आया था तो उस समय एयरपोर्ट से शहर तक आने वाले रास्ते को देखकर बहुत पीड़ा हुई थी। शहर में पहुंचा तो बार-बार बिजली के लटकते तारों से सामना हुआ। मन में विचार उठा यहां गंदगी के ढेर क्यों हैं। मैं आज कह सकता हूं कि हम सभी के सामूहिक प्रयास और बाबा के आशीर्वाद से काशी के बदलाव को काशीवासियों समेत पूरा देश अनुभव कर रहा है। मैं आज कह सकता हूं कि हम सभी के सामूहिक प्रयास और बाबा के आशीर्वाद से काशी के बदलाव को काशीवासियों समेत पूरा देश अनुभव कर रहा है। हमारी विरासत, हमारी आस्था के प्रतीक बाबा विश्वनाथ और गंगा मां की सेवा का अवसर मिलना वाकई सौभाग्य है।

मां गंगा को निर्मल और अविरल बनाने की दिशा में भी हम काफी आगे बढ़ गए हैं। मैंने पहले भी कहा है कि बाबा की इच्छा के बगैर यहां एक पत्ता भी नहीं हिलता। मैं तो निमित्त मात्र हूं। पीएम मोदी ने कहा कि हम देश के हर हिस्से, हर वर्ग को मजबूत करने के संकल्प के साथ लगे हैं। बीते 5 वर्ष पुरुषार्थ के थे, आने वाले 5 वर्ष परिणाम के होंगे।

इससे पहले पीएम मोदी वाराणसी में मेगा रोड शो और नामांकन के लिए गुरुवार शाम 4.30 बजे बाबतपुर स्थित लाल बहादुर शास्‍त्री अंतरराष्‍ट्रीय एयरपोर्ट पर विमान से पहुंचे। एयरपोर्ट पर वह हेलिकाप्‍टर से बीएचयू स्थित हेलिपैड के लिए रवाना हो गए, जहां शाम पांच बजे वह पहुंच गए। इसके बाद लंका स्थित सिंह द्वार पर शाम सवा पांच बजे उन्‍होंने पं. महामना मदन मोहन मालवीय की प्रतिमा पर पाल्‍यार्पण कर रोड शो की शुरुआत की। इसके बाद हर-हर महादेव और जय श्री राम के साथ मोदी-मोदी के गगनभेदी नारों से काशी गूंज उठी। सड़क से काफ‍िला गुजरा तो लोगों ने फूलों की बौछार कर पीएम का स्‍वागत भी किया। रोड शो दशाश्‍वमेध घाट पर आकर जब समाप्‍त हुआ तो पीएम नरेंद्र मोदी ने करबद्ध होकर मां गंगा को नमन किया और गंगा आरती में हिस्‍सा लिया।

गंगा आरती के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने रात नौ बजे होटल डी पेरिस में कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों को संबोधित भी किया। कार्यकर्ताओं को चुनावी समर में सक्रिय होने का आहवान किया और विपक्ष को भी इस दौरान उन्‍होंने घेरा। देश की सुरक्षा को लेकर उन्‍होंने अपनी वचनबद्धता भी दोहराई। गंगा की निर्मलता के लिए सरकार के प्रयायों को जहां उनहोंने जनता के सामने रखा वहीं पीएम ने पांच साल के अपने विकास कार्यों को भी गिनाते हुए जनहित की योजनाओं को अपनी प्राथमिकता बतायी। पीएम ने अपने पांच वर्ष के कार्यकाल का लेखा जोखा पेश करते हुए कार्यकर्ताओं से देश निर्माण के लिए आगे आने की अपील भी की। 

शाम करीब 5.45 बजे पीएम का रोड शो लंका से होते हुए अस्‍सी क्षेत्र में पहुंचा। अस्सी चौराहे पर इस दौरान शंख व आरती संग फूलों की बौछार के मध्य पार्टी काशी वासियों ने पीएम का स्वागत किया। इसके बाद पीएम के रोड शो का अगला पड़ाव भदैनी क्षेत्र 6.15 बजे पहुंचा। रोड शो जब भदैनी के आगे पहुंचा तब तक रात होने की वजह से पीएम के वाहन की उनके चेहरे पर लाइट जलाकर रोड शो को आगे बढाया गया। शाम सात बजे पीएम का काफ‍िला मदनपुरा पहुंचा और इसके बाद शाम साढे सात बजे पीएम का काफ‍िला गोदौलिया आ गया जहां कार्यकर्ताआें ने जोरदार नारे लगाकर पीएम का स्‍वागत किया। इसके बाद पीएम का रोड शो दशाश्‍वमेध घाट जाकर रात 7.45 बजे समाप्‍त हो गया। यहां पर पीएम नरेंद्र मोदी के साथ भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह, सीएम योगी आदित्‍यनाथ और प्रदेश भाजपा अध्‍यक्ष डा. महेंद्र नाथ पांडेय गंगा आरती में शामिल हुए।

प्रस्‍तावित समय से काफी देर से रोड शो शुरु होने की वजह से पीएम भी अब देर से गंगा आरती में शामिल हुए।दशाश्‍वमेध घाट पर गंगा आरती का समय शाम 6.30 बजे का है। लेकिन पीएम के शामिल होने की वजह से दशाश्‍वमेध घाट पर आरती रात 8.35 बजे पूरी की गई। इससे पूर्व पूरे रोड शो के दौरान लाखों लोग पीएम का स्‍वागत करने के लिए लंका गेट से लेकर दशाश्‍वमेध घाट तक मौजूद रहे। वहीं शाम को दशाश्‍वमेध घाट पर गंगा आरती में शामिल होने के लिए भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह, केशव मौर्या अाैर पन्‍नीर सेल्वम सहित कई मंत्री भी पहुंचे।

उधर कांग्रेस प्रत्‍याशी अजय राय अपने समर्थकों संग गोदौलिया की तरफ शाम करीब छह बजे बढे तो मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने उनको रोकने की कोशिश की। इसकी वजह से काफी देर तक कार्यकर्ताओं के बीच टकराव की नौबत बनी रहने से प्रशासन के भी हाथ पांव फूल गए। हालांकि उनके द्वारा काशी विश्‍वनाथ दरबार दर्शन पूजन की बात कहने पर प्रशासनिक अधिकारियों ने जाने की अनुमति दे दी इसके बाद विवाद भी शांत हो गया।

इससे पूर्व एयरपोर्ट पर केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल, प्रकाश सिंह बादल, पूर्व विधायक श्यामदेव राय चौधरी और ज्योत्सना श्रीवास्तव के अतिरिक्‍त पार्टी के पदाधिकारी भी प्रधानमंत्री का स्‍वागत करने के लिए बाबतपुर पहुंचे। वहीं पीएम नरेंद्र मोदी के आगमन से पूर्व बीएचयू हेलिपैड पर मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ का हेलिकाप्‍टर भी पहुंचा। काशी में कई केंद्रीय मंत्रियों सहित देश के कई प्रदेशों के भाजपा के दिग्‍गज नेता भी पीएम नरेंद्र मोदी के नामांकन के लिए मौजूद हैं। 

वाराणसी से बतौर सांसद पीएम नरेंद्र मोदी अपनी दूसरी पारी की उम्मीदवारी के लिए भारतीय जनता पार्टी की ओर से काशी में बहुप्रतीक्षित मेगा रोडशो शाम करीब सवा पांच बजे से शुरु किया। पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र में आयोजित इस मेगा रोड शो में लघु भारत की तस्वीर भी नजर आई और गंगा-जमुनी तहजीब की साझा सांस्‍कृतिक विरासत भी नुमाया हो रही है। जगह-जगह पीएम के मुखौटे लगाकर सुबह से ही पार्टी कार्यकर्ताओं का हुजूम सड़कों पर उतरा और अपने चहेते सांसद के समर्थन में जमकर नारेबाजी की। वहीं पीएम का यह दौरा पार्टी के सोशल मीडिया एकाउंट पर भी लाइव होता रहा। इसके लिए भाजपा आइटी सेल की टीम एक दिन पूर्व ही सक्रिय हो गई थी। वाराणसी पहुंचने से पूर्व पीएम नरेंद्र मोदी ने टवीट कर काशी में अपने आयोजन की जानकारी सोशल मीडिया पर शेयर की। 

लंका से शुरु हुआ था रोड शो 

पीएम नरेंद्र मोदी ने शाम सवा पांच बजे लंका स्थित बीएचयू सिंहद्वार पर भारत रत्न पंडित महामना मदनमोहन मालवीय की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर रोड शो की शुरुआत की। यह रोड शो अस्सी, शिवाला, सोनारपुरा, मदनपुरा और गोदौलिया होते हुए शाम 7.45 बजे दशाश्वमेध घाट पर जाकर समाप्त हो गया। इसके बाद रात साढे आठ बजे तक पीएम नरेंद्र ने भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह, सीएम योगी आदित्‍यनाथ और प्रदेश भाजपा अध्‍यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय के साथ गंगा आरती में हिस्‍सा लिया। इस दौरान करीब सात किलोमीटर के रास्‍ते में सुरक्षा के काफी व्‍यापक इंतजाम रहे। 


जगह-जगह हुआ स्‍वागत 

लंका में पं. मदन मोहन मालवीय की प्रतिमा पर माल्‍यार्पण के बाद पीएम का काफ‍िला जैसे जैसे आगे बढता रहा वैसे ही जगह-जगह उनका अनोखे ढंग से कार्यकर्ताओं ने स्‍वागत भी किया। रविदास गेट पर जहां सांस्‍कृतिक आयोजन किया गया वहीं प्रमुख जगहों पर जोशीले पार्टी कार्यकर्ताओं का हुजूम समर्थन में नारेबाजी भी करता नजर आया। रविदास गेट पर सोनभद्र के कलाकारों द्वारा आदिवासी नृत्‍य पेश कर चुनावी माहौल बनाया गया। वहीं प्रमुख रोड शो के स्‍थानों पर पार्टी कार्यकर्ता 'मैं भी चौकीदार' टीशर्ट के साथ पीएम नरेंद्र मोदी का समर्थन करते नजर आए। जबकि विदेशी सैलानी भी भगवा रंग में इस दौरान नजर आए। 

पीएम का रोड शो सोशल मीडिया में लाइव

काशी में पीएम नरेंद्र मोदी का दौरा सोशल मीडिया पर भी लाइव रहा। पीएम नरेंद्र मोदी ने काशी आते ही सबसे पहले टवीट कर काशी में अपने कई कार्यक्रमों की जानकारी साझा की। वहीं भाजपा के विभिन्‍न सोशल मीडिया एकाउंट से रोडशो और गंगा आरती का सीधा प्रसारण किया गया। सुबह से ही टविटर शीर्ष ट्रेंड में पीएम का दौरा शामिल रहा तो दिन भर पीएम का रोड शो पार्टी कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों के एकाउंट से वायरल होते रहे। दिन भर 'काशी बोले नमो नमो' और 'वाराणसी' आदि हैशटैग से पीएम का दौरा ट्रेंड करता रहा। वहीं सोशल मीडिया के विभिन्‍न प्‍लेटफार्मों पर पीएम के दौरे संबंधी आयोजन दिन पर पार्टी के आधिकारिक सोशल मीडिया एकाउंट से पोस्‍ट होते रहे। 

यह भी पढें : आज मोदी मय होगा वाराणसी, जानें उन ऐतिहासिक जगहों के बारे में जहां से गुजरेगा PM का काफिला

Posted By: Abhishek Sharma