फरीदाबाद, जेएनएन। ईवीएम से वीवीपैट की पर्चियों के मिलान के लिए जिला निर्वाचन कार्यालय की ओर से बेहद सावधानी बरती जाएगी। प्रशासन चाहता है कि जहां वीवीपैट की पर्चियों की गिनती हो, वहां सुरक्षा और पारदर्शिता को लेकर कोई सवाल न खड़ा हो। इसलिए वीवीपैट मशीनों की गिनती के लिए पिजन बॉक्स बनाए जा रहे हैं।

पिंजरे की तरह दिखने वाले बड़े-बड़े बॉक्स के अंदर पर्चियों की गिनती होगी। प्लास्टिक की पारदर्शी शीट से बने पिजन बॉक्स में सभी प्रत्याशियों के लिए अलग-अलग बॉक्स होंगे, जिसमें उन्हें मिलने वाली वोट की पर्चियों को रखा जाएगा। पहली बार लोकसभा चुनाव में ईवीएम को वीवीपैट से जोड़ा गया है। हर विधानसभा क्षेत्र में ड्रॉ निकाला जाएगा जिसके माध्यम से पांच मतदान केंद्रों पर लगी वीवीपैट मशीनों की पर्चियों की गिनती होगी।

प्रत्येक मतगणना केंद्र में वीवीपैट की पर्चियों को गिनने के लिए अलग व्यवस्था की जा रही है। इनके लिए अलग कैबिन तैयार हो रहे हैं। एक बार में एक बूथ की पर्चियों को गिना जाएगा। फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र से 27 प्रत्याशी मैदान में हैं और नोटा को मिलकर ये 28 हो जाते हैं। इसलिए एक पिजन बॉक्स में 28 अलग-अलग बॉक्स होंगे।

सहायक निर्वाचन अधिकारी एवं अतिरिक्त उपायुक्त धर्मेंद्र सिंह ने बताया कि प्रत्याशियों की पहचान के लिए बॉक्स पर उनके चुनाव चिन्ह लगाए जाएंगे। वीवीपैट से पर्ची निकाल कर प्रत्याशी के बॉक्स में रखा जाएगा, जिसका चुनाव चिन्ह उस पर्ची पर छपा है। इससे गिनती करने में आसानी होगी कि किस प्रत्याशी को कितने वोट मिले हैं।

दिल्ली- NCR की ताजा खबरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Mangal Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस