विशाखापट्टनम, प्रेट्र । बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख मायावती ने बुधवार को संकेत दिए कि वह प्रधानमंत्री पद की दौड़ में हैं। उन्होंने कहा कि अगर उन्हें केंद्र में मौका मिला तो सर्वश्रेष्ठ सरकार देने में वह उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में हासिल अनुभव का उपयोग करेंगी। वह चार बार उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री रह चुकी हैं।

यहां एक प्रेस कांफ्रेंस में मायावती ने कहा, 'मेरे पास बहुत अनुभव है। मैं केंद्र सरकार में उसका इस्तेमाल करूंगी और लोगों के कल्याण के लिए काम करूंगी। अगर केंद्र में हमें मौका मिला तो हम उत्तर प्रदेश का पैटर्न अपनाएंगे और हर तरह से सर्वश्रेष्ठ सरकार देंगे।' जब उनसे पूछा गया कि क्या वह प्रधानमंत्री बनना चाहेंगी और क्या तीसरे मोर्चे की जरूरत है? इस पर उन्होंने कहा कि 23 मई को जब चुनाव परिणाम घोषित हो जाएंगे तो सभी चीजें साफ हो जाएंगी। मायावती ने इस बात का खासतौर पर उल्लेख किया कि 2014 के चुनावों में बसपा को भाजपा और कांग्रेस के बाद सबसे ज्यादा वोट हासिल हुए थे।

बता दें कि बसपा आंध्र प्रदेश में जन सेना, भाकपा और माकपा के साथ मिलकर लोकसभा और विधानसभा चुनाव लड़ रही है। गठबंधन के तहत बसपा 25 में से तीन लोकसभा सीटों और 175 में से 21 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ रही है। प्रेस कांफ्रेंस में उनके साथ जन सेना के प्रमुख पवन कल्याण भी मौजूद थे।

Posted By: Sanjeev Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस