उन्नाव, जेएनएन। वर्ष 2014 में तीन लाख 10 हजार 176 मतों से सपा प्रत्याशी को हराकर सांसद बने साक्षी महाराज ने लगातार दूसरी बार फिर जीत दर्ज करते हुए अपना ही रिकार्ड तोड़ दिया। उन्होंने इस बार भी गठबंधन से सपा प्रत्याशी को 4 लाख 956 मतों से परास्त किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बाद साक्षी महाराज उत्तर प्रदेश मे भाजपा के दूसरे ऐसे प्रत्याशी हैं, जिन्होंने चार लाख से अधिक मतों के अंतर से जीत हासिल की है। 
वर्ष 2014 के चुनाव में साक्षी को जहां 43.18 प्रतिशत वोट मिले थे, वहीं इस बार 56 प्रतिशत से अधिक मत हासिल करके उन्होंने कांग्रेस प्रत्याशी की फिर से जमानत जब्त करा दी है। गुरुवार की सुबह मतगणना के रुझान में जैसे-जैसे भाजपा बढ़त बना रही थी, जीत के प्रति आश्वस्त कार्यकर्ताओं के चेहरे की खुशी दोगुनी हो रही थी। कार्यकर्ताओं ने साक्षी महराज के कार्यालय पहुंच जश्न मनाना शुरू कर दिया। ढोल ताशे पर हर-हर मोदी, साक्षी जिंदाबाद के नारे लगा कार्यकर्ता जमकर थिरके। जोश और उमंग में वह आवास के सामने सड़क पर उतर आए और जीत का जश्न मनाया।
नौवें चरण में निकटतम प्रतिद्वंद्वी गठबंधन से सपा प्रत्याशी अरुण शंकर शुक्ला उर्फ अन्ना से एक लाख से अधिक मतों बढ़त बनाने के बाद ही साक्षी ने जीत के संकेत दे दिए थे। अपने विवादित बोल के कारण चर्चा में रहे साक्षी के बयान सोशल मीडिया पर वायरल हुए थे तो आयोग ने उन्हें 48 घंटे के लिए चुनाव प्रचार करने से रोक दिया था। 
वोट के आंकड़ों पर एक नजर

  • भाजपा से साक्षी महाराज- 703507
  • गठबंधन से अरुण शुक्ल- 302551
  • कांग्रेस से अन्नू टंडन-185634 

चुनाव रुझान देख खिसके विपक्षी
मतगणना की शुरुआत के रुझान देख हाइवे पर जमे सपा और कांग्रेस प्रत्याशियों के समर्थक धीरे-धीरे वहां से खिसकते नजर आए। भाजपा के एक लाख का आंकड़ा पार करने के बाद सभी मौके से नदारद हो गए। सभी को आभास हो गया कि अब उनकी दाल नहीं गलने वाली।

उन्नाव सीट के लिए दही चौकी स्थित राज्य भंडार गृह में मतगणना के इंतजाम किए गए। चुनाव के चौथे चरण में 21,88,558 मतदताओं में 56.69 प्रतिशत यानि 12,35,879 वोटरों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था।मतगणना में प्रेक्षक समेत जिला निर्वाचन अधिकारी, उप निर्वाचन अधिकारी व पूरा अमला मौजूद रहे। मतगणना में 492 कर्मचारी लगाए गये।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Abhishek