लद्दाख, जेएनएन। लद्दाख सीट पर दो मतदान केंद्र ऐसे हैं जिस पर मात्र सात-सात वोटर हैं। उन बूथ पर मतदान कराने के लिए न्यूनतम तीन मतदानकर्मी को तैनात किया जा रहा है। इसके अलावा दो सुरक्षाकर्मी भी तैनात रहेंगे। लेह विधानसभा क्षेत्र का गैक और नुबरा विधानसभा क्षेत्र के वाशी बूथ पर भी केवल 7-7 वोटर हैं। लेह के शिनेम मतदान केंद्र पर सबसे अधिक 1301 मतदाता मतदान करेंगे। फुस्तान मतदान केंद्र पर मात्र 23 वोटर हैं पर पोलिंग टीम उन्हें मतदान का हक दिलाने के लिए आठ किलोमीटर पहाड़ों के रास्ते चलकर पहुंचेगी...।

क्षेत्रफल के अनुसार सबसे बड़ा लोकसभा क्षेत्र है लद्दाख

लद्दाख लोकसभा क्षेत्र के करीब पौने दो लाख मतदाता 6 मई को चार प्रत्याशियों का भाग्य तय करेंगे। लद्दाख क्षेत्रफल के अनुसार देश का सबसे बड़ा लोकसभा क्षेत्र है पर अधिकतर दुर्गम पहाड़ी क्षेत्र होने के कारण आबादी अपेक्षाकृत काफी कम है। यही वजह है कि यह सीट सबसे कम मतदाताओं वाले तीन लोकसभा क्षेत्रों में शुमार है। लद्दाख सीट का कुल क्षेत्रफल 59,146 वर्ग किलोमीटर है। इस क्षेत्र का अपना भौगोलिक और सामरिक महत्व है। एक ओर इसका क्षेत्र नियंत्रण रेखा से गुलाम कश्मीर से सटा है और दूसरी ओर एलएसी के माध्यम से चीन से। कारगिल विवाद ने इस क्षेत्र की संवेदनशीलता को और बढ़ा दिया। अकसाई चीन पर चीनी कब्जे को लेकर विवाद है। लोकसभा क्षेत्र लेह व कारगिल जिलों में फैला है।

सबसे कम मतदाता लद्दाख लोकसभा में

इस लोकसभा क्षेत्र में चार विधानसभा क्षेत्र शामिल हैं कारगिल, जंस्कार लेह और नुबरा। इतना विशाल भौगोलिक क्षेत्र होने के बावजूद मतदाताओं की संख्या मात्र एक लाख 74 हजार 618 है। इनमें से 86752 पुरुष व 85604 पुरुष मतदाता हैं। 2799 सर्विस वोटर हैं और 3 ट्रांसजेंडर। लद्दाख सीट पर लेह और कारगिल जिलों में 559 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। इनमें से 294 लेह जिले में बनाए गए हैं। लेह विधानसभा क्षेत्र में ही 225 बूथ बनाए गए हैं। शेष 69 मतदान केंद्र नूबरा विधानसभा क्षेत्र में बनाए गए हैं। 265 मतदान केंद्र कारगिल जिले में हैं। इनमें से 84 बूथ जंस्कार विधानसभा क्षेत्र में बनाए गए हैं।

कारगिल विधानसभा क्षेत्र में 65294 मतदाता हैं। इनमें 32895 पुरुष ओर 31354 महिला मतदाता हैं। 1044 सर्विस और एक ट्रांसजेंडर मतदाता है। कारगिल में 181 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। जंस्कार विधानसभा क्षेत्र में कुल 22487 मतदाता हैं। इनमें से 11162 पुरुष और 11051 महिला मतदाता हैं। 274 सर्विस मतदाता हैं। लेह जिले के लेह विधानसभा क्षेत्र में कुल 72689 मतदाता हैं। इनमें 35728 पुरुष और 35746 महिला मतदाता हैं। इनके अलावा 1214 सर्विस वोटर और एक ट्रांसजेंडर वोटर हैं। लेह जिले के नुबरा विधानसभा क्षेत्र में मात्र 14148 मतदाता हैं। इनमें से 6967 पुरुष और 6913 महिला मतदाता हैं। 267 सर्विस वोटर हैं और एक ट्रांसजेंडर है।

चुनाव कर्मियों की है कड़ी परीक्षा

लद्दाख सीट के दुर्गम क्षेत्र में बने मतदान केंद्रों पर पहुंचना मतदान कर्मियों के लिए भी आसान नहीं है। मतदान केंद्रों तक पहुंचने के लिए उन्हें कड़ी परीक्षा देनी होगी। कहीं पैदल ही बर्फ के पहाड़ नापने होंगे और कहीं मौसम की चुनौती से दो-चार होना होगा। कई मतदान केंद्रों पर पहुंचने के लिए 15 से 30 किलोमीटर पैदल चलना होगा। ऐसे मतदान केंद्रों की संख्या दर्जनों में है जहां मतदान टीम को पांच से दस किलोमीटर पैदल चलना होगा। निर्वाचन अधिकारी भी उनकर्मचारियों के हौसले को सलाम करते हैं और कहते हैं कि इनकी बदौलत ही निष्पक्ष चुनाव संभव ह

15 हजार फीट की ऊंचाई पर अनले फो

लद्दाख के चांगथांग क्षेत्र में मतदान केंद्र बनाया गया है जो समुद्र तल से 15 हजार फीट की ऊंचाई पर है। फिलहाल लाहौल स्फीती का टशीगंग मतदान केंद्र देश का सबसे ऊंचा मतदान केंद्र माना गया है। वह 15 हजार 256 फीट की ऊंचाई पर बनाया गया है। उसके बाद लद्दाख के अनले फो का नंबर आता है। यह मतदान केंद्र भारत चीन के बीच तय एलएसी (वास्तविक नियंत्रण रेखा) से मात्र 50 मीटर की दूरी पर है

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Dhyanendra Singh