मुंबई, प्रेट्र। जम्मू एवं कश्मीर को देश से अलग करने की बात करने वालों को जोरदार जवाब देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सराहना करते हुए शिवसेना ने कहा है कि उन्हें यह सुनिश्चित करना होगा कि चुनाव बाद जादुई आंकड़े से पीछे रह जाने पर पीडीपी, नेकां और राकांपा राजग का हिस्सा नहीं बनेगा। अपने मुखपत्र सामना में शिवसेना ने कहा है कि यह अच्छा है कि प्रधानमंत्री उनलोगों के खिलाफ आवाज बुलंद कर रहे हैं जो देश को बांटने का प्रयास कर रहे हैं। उन्हें लोगों को दो आश्वासन देना होगा।

सेना ने कहा है, 'कल सरकार बनाने के लिए संख्या जुटाने की जरूरत पड़ सकती है। ऐसे में जो देश बांटने की बात कर रहे हैं उनके साथ कोई रिश्ता नहीं रहेगा। और जिन्होंने कश्मीर की तीन पीढि़यों को तबाह किया है उन्हें मोदी कैबिनेट या राजग में जगह नहीं मिलेगी।'

सेना ने आगे कहा है कि मोदी का राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) प्रमुख शरद पवार के खिलाफ रुख चुनाव के बाद भी बना रहना चाहिए। जो देश को बांटने की बात कर रहे हैं और जो उनका समर्थन कर रहे हैं उन्हें भविष्य में राजनीति में जगह नहीं मिलनी चाहिए। जो आज राष्ट्र विरोधियों का समर्थन कर रहे हैं, राजनीतिक कारणों से राष्ट्रवादियों के साथ उनका बैठना हमारे जवानों का अपमान होगा।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस