रांची, राज्य ब्यूरो।Lok Sabha Election 2019 - पीएम मोदी के रांची में रोड शो से पहले ही विपक्षी बिलबिला उठे हैं। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. अजय कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की तुलना फिल्म निर्माता रामसे ब्रदर्स से की है। कहा कि रामसे ब्रदर्स डरावनी फिल्में बनाते थे और मोदी-शाह डरावनी बातें कर लोगों से वोट मांग रहे हैं।

उग्रवाद के नाम पर तो कभी आइडी विस्फोट के नाम पर लोगों के बीच डर का माहौल पैदा किया जा रहा है और दावेदारी की जा रही है कि इससे भाजपा ही मुक्त रख सकेगी। उन्होंने याद दिलाया कि पंजाब में उग्रवाद का खात्मा कांग्रेस ने किया तो कश्मीर से लेकर उत्तर-पूर्व तक उग्रवाद को नियंत्रित किया। अब मोदी-शाह की जोड़ी लोगों को डरा रही है पर झारखंड के लोग डरनेवाले नहीं। डॉ. अजय कुमार प्रधानमंत्री के रांची पहुंचने के पूर्व संवाददाताओं से बात कर रहे थे।

डॉ. अजय कुमार ने दावा किया कि प्रधानमंत्री रोजगार, विकास जैसे मुद्दों की चर्चा तक नहीं कर रहे जबकि हालात दिनोंदिन खराब होते जा रहे हैं। एनएसओ डाटा के अनुसार देश में 1.8 करोड़ लोगों ने नौकरियां गंवाई हैं, गरीबी हटाने में झारखंड 29वें स्थान पर है तो स्वास्थ्य की स्थिति में 23वें स्थान पर। पहले जहां एक परिवार अपनी आमदनी का 23 फीसद बचत कर ले रहा था वहीं अब बचत 17 फीसद हो रही है और इसका कारण महंगाई है।

उन्होंने न्याय योजना पर सवाल उठानेवालों से पूछा कि कांग्रेस ने तो सिर्फ तीन लाख करोड़ खर्च करने का प्रस्ताव दिया है जबकि भाजपा ने 125 लाख करोड़। अब जनता ही जान रही है कि अर्थव्यवस्था के लिए कौन अधिक नुकसानदेह है। भाजपा को डर है कि गरीबों की स्थिति दुरुस्त हो गई तो घर के नौकर कहां से आएंगे और ट्वायलेट कौन साफ करेगा।

उन्होंने मोदी सरकार पर हिटलर की तरह काम करने का आरोप लगाया और कहा कि हिटलर भी लोगों को डराता था कि फलां से देश को खतरा है और फिर लोग उग्र हो जाते थे। कुछ ऐसे ही हालात यहां हैं और चारों ओर मॉब लिंचिंग जैसी घटनाएं हो रही हैं। गुमला में हुई घटना का जिक्र भी उन्होंने किया। 

आगे प्रियंका का रोड शो देख लीजिएगा
कांग्रेस के सीनियर नेताओं के झारखंड नहीं पहुंचने के एक सवाल पर उन्होंने कहा कि 25 अप्रैल के बाद से सभी का आगमन शुरू होगा और आनेवाले दिनों में झारखंड में प्रियंका गांधी का भी रोड शो होगा। 

संवैधानिक संस्थाओं को बर्बाद करने के बाद राजभवन पर नजर
डॉ. अजय कुमार ने कहा कि मोदी ने देश की तमाम संवैधानिक संस्थाओं को बर्बाद कर दिया है और अब राजभवन पर नजर है। राजभवन को राजनीति का केंद्र बनाया जा रहा है। यहां मोदी रुकेंगे और पार्टी के नेताओं के साथ रणनीति भी तैयार करेंगे। ऐसे में हालात और खराब होंगे।

सरना कोड चाढ़े चार साल में क्यों नहीं लागू किया रघुवर सरकार ने?
सरना धर्म कोड को लेकर मुख्यमंत्री के बयानों को आड़े हाथों लेते हुए डॉ. अजय कुमार ने सवाल उठाया कि रघुवर दास लोगों को यह क्यों नहीं बताते कि साढ़े चार साल से क्या कर रहे थे। अब अचानक यह विचार उनके मन में कहां से आ गया।

Posted By: Alok Shahi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस