नई दिल्ली, एएनआई। लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Election 2019) के नतीजे सामना सामने आ ही गए है। बीजेपी ने 2014 के मुकाबले, इस बार भारी बहुमत हासिल की है। इसी बीच एआईएमआईएम प्रमुख असुद्दीन औवैसी ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि जहां भी क्षेत्रीय दल थे वहां भाजपा को रोक दिया गया है। भाजपा ने 300 में से 177 सीटें वहां जीती है जहां कांग्रेस उनके खिलाफ थी। अगर इसके बाद भी यदि कोई कहता है अकेले बीजेपी को देश पर शासन करने का अधिकार है, तो मुझे नहीं लगता की इसका कोई मूल्य है।   

ओवैसी ने उठाए विपक्ष की एकता पर सवाल
ओवैसी ने विपक्ष की एकता और रणनीति पर सवाल करते हुए कहा कि विपक्ष बस राष्ट्रवाद के मुद्दे पर भाजपा का मुकाबला नहीं कर सकते है। विपक्ष के भाजपा का सामना करने के लिए नए तरीके से रणनीति बनानी होगी। उन्होंने कहा कि इस बार के चुनाव में भाजपा का मुद्दा राष्ट्रवाद था और विपक्ष इसके खिलाफ रणनीति बनाने में नाकामयाब रहा। हालांकि औवेसी ने यह भी कहा कि भाजपा की जिम्मेदारी अब और बढ़ गई है। पार्टी को अब अपनो वादों को पूरा करना होगा। वरना जिस तरह से लोग इस पार्टी को आसमान पर ले गए है वैसे ही इसे नीचे भी ले आएंगे। इससे पहले वह कई बार ईवीएम को लेकर भी सवाल उठा चुके हैं। जिस वक्त गिनती जारी थी और भाजपा बहुमत की ओर बढ़ रही थी तब ओवैसी ने कहा था कि इस बार भाजपा ने ईवीएम में नहीं बल्कि हिंदुओं के दिमाग में हेराफेरी की है। 

भाजपा ने 542 में से 302 सीटें जीत ली हैं और 1 पर वह आगे चल रही है। इस तरह अकेले भाजपा के खाते में 303 सीटें आ रही हैं। वहीं कांग्रेस महज 52 सीटों पर सिमट कर रह गई है। इतनी ही नहीं कई जगहों पर तो कांग्रेस ने अपने खाता तक नहीं खोल पाई है। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस